बिजली के करंट से भारतीय थल सेवा के 25 वर्षीय जवान गौतम कुमार की मौत

शेखपुरा न्यूज़। गुरुवार के दिन सदर प्रखंड अंतर्गत हथियावा पुलिस ओपी के रसलपुर गांव में बिजली का करंट लगने से एक 25 वर्षीय भारतीय सेना के जवान गौतम कुमार की मौत हो गई।मृतक गांव के रविंद्र सिंह का इकलौता पुत्र था। करंट लगने के बाद जवान को इलाज हेतु सदर अस्पताल शेखपुरा लाया गया। जहां चिकित्सकों द्वारा जवान को मृत घोषित कर दिया गया। इस बाबत ग्रामीणों ने बताया कि युवक भारत पाकिस्तान के जम्मू -काश्मीर सीमा पर तैनात था। पांच दिन पहले छुट्टी लेकर अपना घर आया था।

बेटा और बेटी का बर्थ डे मनाता सैनिक

गुरुवार की दोपहर वह अपने गांव के नावा खंधा स्थित खेत में लगी धान की फसल को देखने निकला था। उसी दौरान बघार में टूटे 440 वोल्ट के करंट युक्त तार की चपेट में वह आ गया। जिससे वह बुरी तरह झुलसकर घायल हो गया ।बाद में ग्रामीणों की सहायता से उसे इलाज हेतु सदर अस्पताल लाया गया।लेकिन शेखपुरा अस्पताल पहुंचते ही युवक दम तोड दिया।इस घटना के बाद पूरे गांव में मातम का माहौल कायम हो गया है।वह अपने पीछे विधवा के साथ साथ दो छोटे छोटे बच्चे छोड़ गया। जिसमे 5 साल का एक पुत्र और तीन साल की एक पुत्री बताई गई है। सूत्रों ने बताया कि युवक वर्ष 2014 में भारतीय थल सेना में सैनिक के पद पर बहाल हुआ था। इस घटना की खबर मिलते ही बड़ी संख्या में ग्रामीण सदर अस्पताल आ पहुंचे।उधर पुलिस भी मृतक की लाश को जब्त कर पोस्टमार्टम करवाने हेतु आ पहुंची है। मृतक की पत्नी , मां और पिता का रोते रोते बुरा हाल हो गया है

Copy
इसे भी पढ़ें..  CSP केंद्र के आड़ में विदेशी शराब का तस्करी करने के मामले में दोषी करार

बीते कल सैनिक की असामयिक मौत होने के बाद जिला प्रशासन या जिला पुलिस प्रशासन के कोई भी एक पदाधिकारी दिवंगत सैनिक को अंतिम विदाई देने न पहुंचे।यहां तक कि प्रशासन के कोई एक पदाधिकारी मृतक के परिवार वालों को सांत्वना देने पहुंचे। इस बाबत दिवंगत सैनिक के भतीजा सौरभ सिंह ने कहा कि घटना के बाद कल ग्रामीणों द्वारा जिला पुलिस प्रशासन को फोन करके दिवंगत सेना के जवान को अंतिम विदाई देने की भी अपील की गई थी।लेकिन दिवंगत सैनिक को मरणोपरांत अंतिम विदाई देना तो दूर आज तक कोई पदाधिकारी या अधिकारी परिजनों से मिलने उसके घर नहीं पहुंचे।जिसका विक्षोभ मृतक के परिजनों के साथ साथ गांव वालों में भी है। सौरभ सिंह बताते है कि अगले माह उन्हे सेना में हवलदार पद पर पदोन्नति मिलने वाली थी। अपने पांच वर्षीय पुत्र आर्यन और तीन वर्षीय पुत्री आराध्या का एकसाथ ही जन्मदिन मनाने को सीमा पर से छुट्टी लेकर पांच दिन पहले घर आए थे। बुधवार की। रात्रि घर में बेटा और बेटी का बर्थ डे धूमधाम से मनाया और बर्थ डे मनाने के 24 घंटे के अंतराल यह हादसा हुआ

इसे भी पढ़ें..  तीन शराबियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

दिवंगत सैनिक की पत्नी 24 वर्षीय खुशबू कुमारी भी इसी जिला के शेखोपुर सराय थाना क्षेत्र अंतर्गत नीमी गांव के रहनेवाली है। जो कि बीएड फाइनल वर्ष की छात्रा है। पति की मौत के बाद खुशबू के ऊपर बड़ा पहाड़ टूट कर गिर पड़ा है।दो छोटे छोटे बच्चों का लालन पालन करने के साथ सास ससुर की जिम्मेवारी भी कम उम्र में भगवान ने थोप डाला। पूरे रसलपुर गांव में सैनिक की मौत के बाद अभी मातम पसरा है। बीती रात्रि पटना जिला के बाढ़ स्थित गंगा घाट पर दिवंगत सैनिक के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार परिवारवालों ने किया। चचेरे भाई प्रमोद कुमार ने मुखाग्नि दी।

इसे भी पढ़ें..  विधायक विजय सम्राट बने संजय गांधी महिला कॉलेज के कार्यकारी अध्यक्ष

source :शेखपुरा की हलचल

Facebook Comments Box