लावारिश अवस्था में एक लग्जरी टाटा सफारी कार बरामद

शेखपुरा न्यूज़। एसपी कार्तिकेय शर्मा के निर्देशों पर टेक्निकल सेल के जवानों और हाथियावां ओपी पुलिस ने सदर प्रखंड के हाथियावां ओपी क्षेत्र अंतर्गत गोसाईमढ़ी गांव से लावारिश अवस्था में एक लग्जरी टाटा सफारी कार बरामद करने में सफलता पाई। इस संबंध में पुलिस से मिली जानकारी में बताया गया कि गोसाईमढ़ी गांव में चार दिनों से टाटा सफारी गाड़ी स्कूल के पास लावारिस अवस्था में खड़ी थी। एक-दो दिनों तक गांव के लोगों ने इस पर संज्ञान नहीं लिया। फिर पूछताछ करने पर गाड़ी का कोई मालिक सामने नहीं आया।इसी बीच एसपी को इसकी सूचना दी गई।

लावारिश अवस्था में सफारी कार

पुलिस को जब सूचना मिली तो पुलिस ने अपने स्तर से छानबीन की तो कोई जानकारी नहीं मिली। फिर पुलिस ने गाड़ी को लावारिस अवस्था में ही बरामद कर लिया। इस बाबत एसपी ने बताया कि टाटा सफारी गाड़ी को पुलिस ने बरामद किया है। लावारिस अवस्था में गाड़ी लगे होने की सूचना ग्रामीणों के द्वारा दी गई थी। काफी पूछताछ के बाद भी गाड़ी का मालिक सामने नहीं आया है। इस वजह से इसे बरामद कर थाना लाया गया है। वहीं यह भी बताया कि पिछले दिनों नवादा में एक करोड़ 22 लाख रुपए की बरामदगी साइबर अपराध के अड्डे से हुआ था। सूत्रों से मिली जानकारी में बताया जा रहा है कि इसी नेटवर्क के जुड़े साइबर अपराध के गिरोह के सदस्य का यह टाटा सफारी गाड़ी है। वहीं टाटा सफारी का रजिस्ट्रेशन झारखंड से होने की बात कही गई है।

Copy
इसे भी पढ़ें..  राजद कार्यालय में धूमधाम से मनाया राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की जन्मदिन

नंबर प्लेट झारखंड का लगा हुआ है। झारखंड के हजारीबाग में इसका रजिस्ट्रेशन सामने आया है। ऑनलाइन चेक करने पर रजिस्ट्रेशन की जानकारी मिली है। ऑनलाइन चेक करने पर अशोक राम के नाम से इस गाड़ी का रजिस्ट्रेशन बताया जा रहा है। रजिस्ट्रेशन 25 जून 2022 को होने की बात ऑनलाइन जांच करने में पता चला है। पुलिस ने बताया कि बरामद लग्जरी से मिली गाड़ी के कागजातों के मुताबिक कार नवादा जिले के वारिसलीगंज थाना क्षेत्र के अपसढ़ गांव निवासी अशोक राम का है। जो कि नवादा में एक करोड़ 22 लाख रुपए की बरामदगी में मामले में फरार चल रहा है।

इसे भी पढ़ें..  26 वर्षीय मोबाइल दुकानदार ने गले में फांसी लगाकर दी जान

पुलिस ने कहा कि उस मामले में यहां के भी कुछ लोगों के शामिल होने की संभावना है।तभी तो साइबर क्रिमिनल के वाहन को यहां सुरक्षित स्थान मान कर रखा गया था।पुलिस इस मामले की छानबीन में जुट गई है।

source:शेखपुरा की हलचल

Facebook Comments Box