शेखपुरा न्यूज़

पत्नी के नाजायज संबंध के कारण पत्नी और 4 माह के पुत्र की हत्या के मामले में कंपाउंडर गिरफ्तार

शेखपुरा न्यूज़। प्रेम विवाह के बाद सहोदर अनुज से पत्नी के नाजायज संबंध के कारण पत्नी और 4 माह के नन्हें पुत्र की हत्या कर दोनो की लाश को गंगा में बहाने के मामले में शामिल एक अन्य आरोपी तथा पिता के क्लीनिक के कंपाउंडर को शनिवार के दिन पुलिस गिरफ्तार कर ली है। छापामारी का नेतृत्व नगर थाना अध्यक्ष सह पुलिस अवर निरीक्षक विनोद राम ने की। गिरफ्तार आरोपी नगर के क्षेत्र चक दीवान मोहल्ला निवासी 23 वर्षीय युवक मनीष कुमार बताया गया है। जिसे पुलिस जेल भेजने की कार्रवाई शुरू कर दी है। बता दें कि इस मामले का उद्भेदन शेखपुरा पुलिस ने पिछले एक सप्ताह पूर्व करते हुए मामले के मुख्य आरोपी और मृतका के पति आशीष कुमार तथा पत्नी व पुत्र की लाश को गंगा नदी में ले जाकर फेंकने में सहयोग करने में शामिल एंबुलेंस चालक सुनील चौधरी को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

हत्या के मामले में कंपाउंडर गिरफ्तार

बता दें कि झारखंड के बोकारो निवासी मनोज यादव की पुत्री 22 वर्षीय दिव्या की शादी 2020 में प्रेम प्रसंग को लेकर खीरी पोखर निवासी डॉ नवल यादव के पुत्र आशीष कुमार के साथ हुई थी।आशीष कुमार से पहले उसके छोटे भाई अश्विनी कुमार से भी दिव्या का प्रेम संबंध था। बाद में आशीष से प्रेम संबंध हुआ और इससे बिहारशरीफ के मनीराम अखाड़ा में प्रेम विवाह भी किया। प्रेम विवाह किए जाने से डॉक्टर नवल यादव नाराज थे। इस वजह से आशीष कुमार धनबाद में साइबर कैफे खोल कर अपना जीवन यापन कर रहा था।
इसी बीच 2 वर्ष की एक बेटी और 4 वर्ष का एक बेटा हुआ।

शादी के बाद दिव्या का फिर से संपर्क अश्वनी कुमार से हो गया और आशीष के छोटे भाई अश्वनी से संबंध की जानकारी आशीष को हो गई । इसी को लेकर पत्नी दिव्या की हत्या करने हेतु 13 अक्टूबर को बेहोशी की दवा देकर उसको बेहोश कर दिया और फिर एंबुलेंस चालक सुनील चौधरी के सहयोग से मुंगेर में दिव्या और 4 माह के बेटे को गंगा में बहा दिया गया।इस घटना को लेकर गत 16 अक्टूबर को दिव्या के पिता मनोज यादव ने बेटी के अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराई थी

Source:शेखपुरा की हलचल

Facebook Comments Box
Leave a Comment

Recent Posts