डीएम का जनता दरबार का आयोजन एक बार फिर

। दो वर्षों से अधिक समय से जिला में ठप्प पड़े डीएम का जनता दरबार का आयोजन एक बार फिर से नए डीएम द्वारा पदभार संभालने के बाद इसका आयोजन शुरू कर दिया गया। जनता दरबार का आयोजन शुरू किए जाने के बाद विभिन्न समस्याओं के निदान के लिए कार्यालयों और अधिकारियों का चक्कर लगा रहे फरियादियों को अब राहत मिलेगी।

शुक्रवार को समाहरणालय के मंथन सभागार में नए डीएम साजन कुमार ने जनता के दरबार का आयोजन किया । जिसमें डीएम द्वारा आम जनता की समस्याओं से रू-बरू हुये। जनता के द्वारा डीएम के समक्ष कई प्रकार की समस्याएॅ रखी गई। जमीन विवाद, अवैध तरीके से जमीन बिक्री, शिक्षक के लंबित वेतन भुगतान, गलत ढॅग से इंद्रिरा आवास देना, एस॰के॰आर॰ काॅलेज बरबीघा द्वारा सीएलसी नहीं देना, अवैध राशन कार्ड निर्गत करना, रैयती जमीन पर तालाब की खोदाई एवं मारपीट करना आदि है। डीएम द्वारा मामले की गंभीरता को देखते हुये संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक कार्य हेतु निदेश दिये गये।जबकि कई मामलों का निष्पादन डीएम ने ऑन द स्पॉट किया। उल्लेखनीय है कि अब हर सप्ताह प्रत्येक शुक्रवार को दिन के 11.00 बजें पूर्वा॰ में डीएम द्वारा जनता की समस्या को सुनी जायेगी और उनका समाधान किया जायेगा। जनता दरबार में सभी अधिकारियों उपस्थित रहने को कहा गया है।

Copy
इसे भी पढ़ें..  कारे में अपह्रत छात्र को छुड़ाने गई पुलिस टीम पर हमला करने के मामले में 9 लोगों को किया गिरफ्तार

जनता दरबार में उपस्थित पदाधिकारी-उप विकास आयुक्त, सत्येंद्र कुमार सिंह, अपर समाहर्ता सत्यप्रकाश शर्मा, सिविल सर्जन डॉ पृथ्वीराज, अनुमंडल पदाधिकारी निशांत, अपर अनुमंडल पदाधिकारी राजीव कुमार, जिला पंचायती राज पदाधिकारी सहित कई जिला स्तर के पदाधिकारी मौजूद थे।

Facebook Comments Box