शेखपुरा न्यूज़

बोरिंग के गड्ढे की सफाई के दौरान मिट्टी का चट्टान गिरने से मलवे के नीचे दबकर किसान की मौत

शेखपुरा / बरबीघा । मंगलवार को जिले के बरबीघा थाना क्षेत्र अंतर्गत बलवापर गांव के बघार में बोरिंग के गड्ढे की सफाई करने के दौरान मिट्टी का चट्टान गिरने से एक 40 वर्षीय किसान की मौत मलवे के नीचे दब कर हो गई। मृतक की पहचान बलवा पर गांव निवासी दुलारचंद यादव के पुत्र इंद्लू यादव के रूप में की गई हैं। इस बाबत ग्रामीणों ने बताया कि वर्षा के अभाव में खेतों में सूख रहे धान की फसल का पटवन हेतु किसान अपने पुराने बोरिंग को चालू करने में जुटा था।

बोरिंग के चारो तरफ खोदा गया कुआं

किसान इंदलू यादव सूखे से निबटने के लिए बोरिंग की तैयारी में लगा हुआ था। बोरिंग से पानी नहीं निकल रहा था। पलंबर मिस्त्री लाकर दिखाने पर पता चला कि बोरिंग का पाइप फट गया है। नीचे से पाइप फटे हुए होने की वजह से परेशानी हो रही है। किसान ने पाइप के फटे हुए हिस्से तक मिट्टी खोदकर वहां तक पहुंचने की जुगाड़ किया ताकि पाइप को बदला जा सके। इसी को लेकर दो-तीन दिनों तक किसान के द्वारा कुआं जैसा गड्ढा खोदकर पाइप तक पहुंचने का प्रयास किया गया । 20 फीट से अधिक गड्ढा किसान ने खोद लिया । लेकिन कोई निदान नहीं निकला।
जेसीबी मशीन बुलाया गया और गड्ढा को खोदा जाने लगा। इसी बीच सफाई को लेकर किसान 20 फीट से अधिक हो चुके गड्ढे में नीचे उतरा और साफ सफाई करने लगा। तभी मिट्टी का एक बड़ा सा हिस्सा किसान के ऊपर गिर गया और किसान उसी में दब कर उनकी मौत हो गई।

बाद में अथक प्रयास के बाद ग्रामीणों ने जेसीबी की सहायता से मृत किसान की लाश को मलवे के नीचे से बाहर निकाल कर ऊपर लाया गया। घटना के बाद पूरे गांव में मातम पसर गया। किसान को मृत अवस्था में ही निकाला गया। बताया जाता है कि मृत किसान को दो छोटे छोटे पुत्र और दो पुत्री है। सबसे बड़ा पुत्र आठवी कक्षा का छात्र है। परिवार वालों का रोते रोते बुरा हाल हो गया है।

source:शेखपुरा की हलचल

Facebook Comments Box
Leave a Comment