धार्मिक

Hariyali Teej 2022 : अगर नहीं रख रहीं हरियाली तीज का व्रत तो जरूर कर लें ये काम, जान लें ये जरूरी नियम

Teej Vrat Rules 2022: सावन माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरियाली तीज का व्रत रख़ना चाहिये . इस दिन मां पार्वती, भगवान शिव और गणेश जी की पूजा का विधान मना जाता है. अगर आप भी तीज पर व्रत रखने बाली हैं, तो व्रत के इन नियमों के बारे में अवश्य जान लें.

अगर नहीं रख रहीं हरियाली तीज का व्रत तो जरूर कर लें ये काम

Hariyali Teej Vrat 2022: हिंदू धर्म में आने वाले हर व्रत और त्योहार का विशेष व्रत मना जाता है. सावन के पवान माह में आने वाले सभी व्रत बेहद ही खास होते हैं. सावन के शुक्ल पक्ष की तृतीया दिन को हरियाली तीज का पर्व मनाया जाता है. इस दिन भगवान शिव, मां पार्वती और गणेश जी की पूजा का नियम है. इस दिन सादी सुदा महिलाएं अपने पति की लंबी आयु और अखंड सौभाग्य की प्राप्ति के लिए यह व्रत रखती हैं. वहीं कुवांरी कन्याएं मनपसंद वर की प्राप्ति के लिए यह व्रत रखती हैं.

आपको बता दें कि इस बार हरियाली तीज का व्रत 31 जुलाई, रविवार के दिन पड़ रहा है.इसमे दिन पूरा दिन उपवास रखकर महिलाएं अपने पति की लंबी आयु और निरोग होने की कामना करती हैं. इस दिन मे अगर आप भी पहली बार व्रत रख रही हैं, तो जान लें की तीज व्रत से जुड़े तो ये जरूरी नियम. इन नियमों के पालन से ही व्रत सम्पूर्ण होगा.और व्रत का पूरा पूरा फल प्राप्त होता है.

हरियाली तीज व्रत पर रखें इन नियमों का ध्यान

  • हरियाली तीज का व्रत रखने के पहले व्रत और पूजा का संकल्प ले लेना चाहिए. कहते हैं कि संकल्प लेने के बाद से व्रत का पारण होने तक जल ग्रहण नहीं किया जाता. तीज का व्रत निर्जला ही किया जाता है.
  • हरियाली तीज के दिन मे हरे रंग का विशेष महत्व होता है. कहते हैं कि हरा रंग अखंड सौभाग्य होने का प्रतीक होने के साथ शिव जी का पसन्ददिता रंग है. इसलिए तीज के दिन हमें हरे रंग के वस्त्र, चूड़ियां, बिंदी और अन्य सामग्री का प्रयोग करना चाहिये
  • तीज माता यानी मां पार्वती की पूजा करते समय उन्हें 16 ऋंगार की चीजें जैसे मेहंदी, महावर, कुमकुम, सिंदूर, चूड़ी, चुनरी, साड़ी, जेवर, पुष्प माला इत्यादि चीजें माता को अर्पित की जाती हैं.
  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तीज की पूजा के बाद सास के पैर छूकर आशीर्वाद लें और उन्हें सुहाग की चीजें भेंट अबसय में दें.
  • हरियाली तीज का व्रत पति की लंबी आयु के लिए रखा जाता है. ऐसे में तीज के दिन पति से साथ किसी बात पर वाद-विवाद न करें. साथ ही साथ पति भी इस बात का खास ख्याल रखें.
  • अगर आप सेहत के चलते हरियाली तीज का व्रत नहीं रख सकती हैं, तो इस दिन मां पार्वती के सामने हाथ जोड़कर अपनी समस्याएं बताते हुए पूजा करें. और उनसे अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद देने की प्रार्थना अवश्य करें.

तीज के दिन मां पार्वती के साथ भगवान शिव और गणेश जी की पूजा भी करें.

  • अगर आप तीज दिन किसी वजह से हरियाली तीज की पूजा में शामिल नहीं हो सकती हैं, तो इस दिन सिर्फ कथा को पढ़िए या सुना भी जा सकता है. इससे मां पार्वती का आशीर्वाद प्राप्त होता है.
Facebook Comments Box
Leave a Comment

Recent Posts