देश न्यूज़

Mamata Benerjee को कैसे लगी चोट, खंभों से जवाब तलाश रही पुलिस व फारेंसिक विशेषज्ञ टीम

मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी को भले अस्पताल से छुट्टी मिल गई हो। व्हीलचेयर पर बैठकर लगातार चुनाव प्रचार कर रही हों। लेकिन उन्हें चोट कैसे लगी यह अब भी जांच का विषय बना हुआ है। ममता ने साजिश और चार-पांच लोगों द्वारा हमले की बात कही थी।

राज्य ब्यूरो,कोलकाता :  मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी को भले ही अस्पताल से छुट्टी मिल गई हो। व्हीलचेयर पर बैठकर लगातार चुनाव प्रचार कर रही हों। लेकिन उन्हें चोट कैसे लगी यह अब भी जांच का विषय बना हुआ है। हमले के तुरंत बाद ममता ने साजिश और चार-पांच लोगों द्वारा हमले की बात कही थी। इसके बाद भाजपा ने मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की थी।

अब खबरें आई हैं कि पुलिस उस इलाके में सघन जांच कर रही है। खबर आ रही है कि जिस छोटे खंभे के निकट नंदीग्राम में ममता को चोट लगी थी उसकी सघन जांच की जा रही है। पुलिस के साथ राज्य के फॉरेंसिक विशेषज्ञों की टीम इलाके के खंभों की जांच की है। बीते 12 मार्च को ममता को अस्तपताल से छुट्टी दे दी गई थी। डॉक्टरों ने कहा था कि इलाज के बाद ममता अच्छा रिस्पांस कर रही थीं।

डॉक्टरों ने ये भी कहा था कि ममता बार-बार छुट्टी दिए जाने का निवेदन कर रही थीं। इसी वजह से उन्हें कुछ निर्देशों के साथ छुट्टी दी गई। उस समय सेठ सुखलाल करनानी मेमोरियल (एसएसकेएम) मेडिकल कालेज अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा था कि सुश्री बनर्जी के स्वास्थ्य की सात दिनों बाद फिर समीक्षा की जाएगी।ममता को लगी चोट को लेकर बंगाल में सभी राजनीतिक दलों की तरफ से काफी बयानबाजी हुई। सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस ने इसके पीछे बड़ी साजिश यहां तक कि ममता की हत्या किए जाने की भी आशंका जता दी थी? भाजपा ने निष्पक्ष जांच की मांग की थी। यहां तक कि चुनाव आयोग को भी इस भी घटनाक्रम को लेकर बयान जारी करना पड़ा, जिसमें दो पर्यवेक्षकों और राज्य के मुख्य सचिव से मिली रिपोर्ट के आधार पर कहा गया कि चोट हादसा था। वहीं सीएम की सुरक्षा निदेशक व पूर्व मेदिनीपुर के एसपी को निलंबित कर दिया गया और डीएम को भी हटा दिया गया। Source : Jagraan

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top