देश न्यूज़

‘पाकिस्तान जिंदाबाद… असलम जिंदाबाद’: चुनाव में देशविरोधी नारे, एक्शन में UP पुलिस

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के नतीजे आने के बाद दो जगहों से कथित तौर पर खुलेआम पाकिस्तान के समर्थन में नारे सुनाई दिए। यूपी के सीतापुर से एक मामला थानगाँव के बेलौता ग्राम से सामने आया। वहीं अमेठी के रामगंज के मंगरा से एक वीडियो आई, जिसमें देशविरोधी गाने तेज आवाज में बजते सुनाई दिए।

इन दोनों घटनाओं की वीडियो इस समय सोशल मीडिया पर वायरल है। सीतापुर में हुई घटना पर पुलिस ने केस दर्ज करके अपनी पड़ताल शुरू कर दी है। नवभारत टाइम्स के मुताबिक थानगाँव इलाके के विकास खंड रेउसा के अंतर्गत बेलौता ग्राम निवासी असलम ने प्रधान पद के लिए दावेदारी की थी। चुनाव की वोटिंग के बाद हुई मतगणना में असलम जब प्रधान पद पर विजयी हुआ तो उसके समर्थकों ने वहाँ जम कर जश्न मनाया।

इसके बाद असलम भैया जिंदाबाद, कामीरा बाबा जिंदाबाद के साथ कथित तौर पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे भी लगे। घटना की वीडियो किसी ने जब रिकॉर्ड करके सोशल मीडिया पर डाली तो पुलिस ने वीडियो पर तुरंत संज्ञान लिया।

अब वीडियो की सत्ययता की जाँच हो रही है। प्रधान असलम और उसके अज्ञात दर्जनों समर्थकों के विरुद्ध संबंधित धाराओं में केस दर्ज करके मामले की पड़ताल चल रही है।

नया पाकिस्तान आया, देखो इमरान खान आया

अमेठी के रामगंज के मंगरा गाँव में पाकिस्तान समर्थित गाने नए प्रधान इमरान खान की रैली में सुनाई दिए। चुनाव आयोग द्वारा विजय जुलूस पर रोक लगाने के बावजूद इमरान खान पर आरोप है कि उसने अपने विजय जुलूस में दर्जनों को बाइक और फोर व्हीलर से शामिल किया। इसके अलावा सामने आई वीडियो में सुन सकते हैं कि जो बैकग्राउंड में गाना बजाया जा रहा है, उसके बोल हैं, “नया पाकिस्तान आया, देखो इमरान खान आया।”

दरअसल, जब पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान अपने मुल्क में चुनाव लड़ रहे थे, तब उन्होंने इस गाने का इस्तेमाल प्रचार के लिए किया था। मगर, अब पंचायत चुनाव में अमेठी के इमरान ने जीत हासिल की, तो वहाँ भी ये गाना सुनाई दिया। ऐसे में कई लोग भड़क उठे।

पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए एफआईआर दर्ज कर ली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रधान को हिरासत में लेकर पूछताछ हो रही है। उनका कहना है कि उनकी तरफ से ये गाना नहीं बजा। अब पुलिस प्रधान के बयान को मद्देनजर रखते हुए साइबर सेल की मदद से वीडियो की प्रमाणिकता जाँच रही है।

बहराइच में नहीं लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे

बता दें कि सीतापुर और अमेठी के अलावा यूपी के बहराइच से भी एक मामला सामने आया था। जहाँ दावा किया गया था कि केवल ग्रामसभा में हाजी अब्दुल कलीम की जीत के बाद पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे। लेकिन पुलिस ने वायरल ऑडियो की सच्चाई को जाँचा और बयान जारी करके ऐसे दावों का खंडन किया। पुलिस ने कहा कि वायरल वीडियो को लेकर जो दावा है कि हाजी अब्दुल ने विजय जुलूस में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगवाए, वह दावा भ्रामक है।

अब सीतापुर और अमेठी की घटनाओं पर भी पुलिस अपने स्तर पर जाँच कर रही है। वीडियो को लेकर किए जा रहे दावे सही हैं या गलत, ये पुलिस जाँच के बाद पता चलेगा। लेकिन ऑडियो में तेज-तेज आवाज में असलम और इमरान का नाम सुना जा सकता है।

गौरतलब है कि देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए निर्वाचन आयोग ने किसी भी प्रकार के विजय जुलूस को निकालने पर पाबंदियाँ लगाईं थी। हालाँकि 2 मई को नतीजे आने के बाद कई जगह आयोग के इन निर्देशों का उल्लंघन हुआ। न केवल उत्तर प्रदेश में बल्कि पश्चिम बंगाल में भी जीतने वाली पार्टी ने हुड़दंग मचाकर कानून अपने हाथ में लिया।

source : opera news

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top