शेखपुरा

डीएम इनायत खान के अध्यक्षता में हुई बैठक में बाहर से आनेवाले मजदूरों और छात्रों को 21 दिन क्वॉरेंटाइन कैंप में रखने का निर्णय

शेखपुरा – जिले से बाहर रहने वाले प्रवासी मजदूर एवं विद्यार्थी आदि शेखपुरा जिला में यात्रियों को पहुंचने के बाद यहां उन्हें संबंधित प्रखंडों में 21 दिनों तक क्वॉरेंटाइन कैंप में रखा जाएगा। जहां सभी प्रकार की सुविधा प्रदान की जाएगी इसके लिए अधिकारियों को जिलाधिकारी शेखपुरा के द्वारा कई निर्देश दिए गए हैं । बीती देर रात जिला अधिकारी के द्वारा सभी वरीय अधिकारी और प्रखंड विकास अधिकारी को इस संबंध में कई निर्देश दिए गए हैं। जिला परिवहन अधिकारी को निर्देशित किया गया है कि  बेगूसराय जिला को 3 मई 20 को संध्या 3:00 वजे तक 3 बस  उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे। आज कैमूर से 9 अप्रवासी मजदूर शेखपुरा जिला में आए हैं जिन्हें अभ्यास मध्य विद्यालय कोरियन टाइन किया गया है।डीपीआरओ ने ने कहा कि 4 मई 20 को प्रातः 6:00 एक विशेष ट्रेन कोटा राजस्थान से बरौनी जंक्शन बेगूसराय जिला का आगमन संभावित है। इस ट्रेन में अनय जिले के अलावे 73 यात्री शेखपुरा जिला के हैं।. इसके लिए 3 मई को 3:00 अपराहन तक 3base बरौनी जंक्शन भेजने का निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिया गया है।बाहर से आने वाले किसी विद्यार्थी या प्रवासी मजदूरों को किसी प्रकार की कठिनाई का सामना करना नहीं पड़े, इसके लिए जिला प्रशासन हर संभव कदम उठा रहा है। बरौनी जंक्शन में उतरने के बाद सभी यात्रियों को मेडिकल चेकअप से गुजरना होगा। जिला जनसंपर्क पदाधिकारी सत्येंद्र प्रसाद ने बताया कि शेखपुरा आने के बाद सभी यात्रियों को आर डी कॉलेज वाहन कोषांग से उनके संबंधित प्रखंडों में भेजा जाएगा ।जहां 21 दिनों तक उन्हें क्वॉरेंटाइन कैंप में रहना पड़ेगा. बिहार सरकार के गाइडलाइन के अनुसार जिलाधिकारी  ने सभी  कैंपों में आधारभूत सुविधा सुलभ कराने का निर्देश दिया है. सभी वस  में दंडाधिकारी के साथ एस्कॉर्ट पार्टी रहेगी। जिलाधिकारी ने स्पष्ट कहा है कि दूसरे जिलों के साथ आवश्यक समन्वय बनाए बनाएं। जिससे कि  शेखपुरा आने वाले किसी व्यक्ति की कोई समस्या ना हो ।उन्होंने कहा कि प्रखंड स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों पर पहुंचे लोगों के भोजन ,आवासन एवं चिकित्सीय सुविधा की समुचित व्यवस्था का ध्यान अवश्य रखने का निर्देश दिया गया। ग्रामीण क्षेत्रों में गाइडलाइन के अनुरूप अतिरिक्त रोजगार का सृजन करना उप विकास आयुक्त सुनिश्चित करेंगे।उन्होंने कहा कि बाहर से आए हुए श्रमिकों का स्किल शेयर भी करें जिससे कि उनकी क्षमता का बेहतर उपयोग किया जा सके।
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top