शेखपुरा

लॉक डाउन की वजह से प्रभावित हो रहे हैं किसान, मौसमी खेती पर भी पड़ा है असर

रिपोर्टर अजीत कुमार

एकर करोना जैसी महामारी को जीतने के लिए लॉक डालना कि आवश्यक है तो वहीं दूसरी ओर इसका आम जीवन पर भी प्रतिकूल असर पड़ रहा है। बरबीघा बाजार के आसपास के कई गांवों के किसानों के लिए आय का प्रमुख स्रोत रहा है। अप्रैल और मई के महीने में आसपास के दर्जनों गांवों के किसानों खिरा, काकड़ी, लालमी, तरबूज आदि बेचने के लिए आते थे। लेकिन बाजार बंद होने के कारण उनके सामानों की बिक्री नहीं हो रही है। जिस कारण उसे मायूस होकर वापस लौटना पड़ रहा है किसानों का रबी फसल पहले ही बारिश और ओलावृष्टि भेंट चढ़ चुका है। ऐसे में उसके द्वारा उप जाई जा रही अन्य फसलों का भी उचित दाम ना मिलने और बिक्री नहीं होने के कारण उनकी कमर ही टूट गई है। शेखपुरा में किसान को बिहार सरकार द्वारा दिए जाने वाले रवि इनपुट फसल योजना से भी वंचित कर दिया गया है इस कारण उनके सामने आजीविका की समस्या उत्पन्न होने लगी है

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top