शेखपुरा

शेखपुरा : गंगा नदी के जलस्तर में वृद्धि के बाद कई गांव पानी से घिरासैकड़ों एकड़ में लगी धान की फसलें पानी में डूबकर हुई बर्बादबाढ़ के कारण सड़क पर डेरा डाले ग्रामीण

घाटकुसुंभा / शेखपुरा।गंगा नदी के जलस्तर में लगातार वृद्धि से घाटकुसुंभा प्रखंड होकर गुजरने वाली हरोहर नदी के अलावा सोमे, टाटी और कौड़ीहाडी नदी में भी उफान आ गया है। गंगा नदी के जलस्तर में वृद्धि से यहाँ सभी नदियों का जलस्तर पिछले चौबीस घंटा में एक फीट और बढ़ गया है। चारो नदी में उलटी घार बहने से बाढ़ को लेकर स्थित और भी बिगडती जा रही है। घाटकुसुम्भा प्रखंड के चार पंचायत में व्यापक बाढ़ के कहर के बाद नदियों का पानी सदर प्रखंड शेखपुरा सदर प्रखंड के पुरैना पंचायत में भी प्रवेश कर गया है। बाढ़ के पानी के कारण सैकड़ों एकड़ भूमि में लगी धान की फसलें बर्बाद हो गई है।इसके अलावे गगौर, कोरमा, माफो , कुरौनी ,जगदीशपुर आदि गावो में भी बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है। बाढ़ के पानी से घिरे गांव के लोग पूरे परिवार और मवेशियों को लेकर मुख्य सड़क पर जगह जगह तंबू गाड़ कर डेरा डाल दिए हैं। माफो पंचायत की मुखिया सुनैना देवी ने प्रशासन से नाव की मांग की है।

क्षेत्र में बाढ़ की विभिषका को लेकर एडीओ निशांत घाटकुसुम्भा प्रखंड मुख्यालय में कैम्प कर रहे हैं। उन्होंने शनिवार को क्षेत्र का दौरा कर प्रखंड अधिकारियो के साथ बाढ़ के स्थित की समीक्षा की। बाद में सीओ को कई आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में पानी लगातार बढ़ रहा है। जिला प्रशासन लोगो की कठिनाई पर कड़ी नजर बनाये हुए है। लोगो के आवागमन के लिए 11 नाव को व्यवस्था कर दी गयी है। इसके अलावे 14 और नाव लगाने की व्यवस्था हो रही है। सभी लोगो को जन वितरण प्रणाली के माध्यम से खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। साथ ही फसल के हुए नुकसान का जायजा भी लिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बाढ़ के पानी के लगातार बढ़ने से लोगो का सम्पर्क टूट गया है। लेकिन लोगो के घर अभी महफूज हैं। लोगो की कठिनाई को देखते हुए प्रशासन द्वारा लोगो को सभी प्रकार के राहत प्रदान किये जायेंगे।

source : शेखपुरा की हलचल

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top