बिहार न्यूज़

बिहार के इस तीसरी चुनावी लड़ाई में दाव पर लगी 12 मंत्रियों की प्रतिष्ठा

तीसरी लड़ाई में कुल 12 मंत्री मैदान में हैं. भाजपा के 5 और जदयू के साथ मंत्री जीत हासिल करने के लिए दिन रात एक कर रहे हैं. अंडे की बात करें तो भाजपा 35 जदयू सहित इस वीआईपी पांच और हम 1 सीटों पर चुनाव लड़ रहा है भाजपा के एक मंत्री अभी एमएलसी हैं. करीब वर्ष भर कार्यकाल भी बचा है लेकिन सीधे जनता का प्रतिनिधि बनने के लिए एड़ी चोटी का पसीना बहा रहे हैं.

भाजपा में मुजफ्फरपुर से सुरेश शर्मा मोतिहारी से प्रमोद कुमार बेनीपट्टी से विनोद नारायण झा बनमनखी से कृष्ण कुमार ऋषि और प्राणपुर सीट से दिवंगत मंत्री विनोद सिंह की पत्नी निशा से किस्मत आजमा रही है. अहम यह है कि मुजफ्फरपुर से सुरेश शर्मा को हैट्रिक किया से मोतिहारी से प्रमोद कुमार लगातार पांचवीं जीत हासिल करने के लिए ताल ठोक रहे हैं. इसी तरह पर्यटन मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि पांचवीं जीत के लिए भाग्य आजमा रहे हैं.

शब्दों में सीखता से फिरोज अहमद उर्फ खुर्शीद बाबूबरही से दिवंगत मंत्री कपिलदेव कामत की बहू मीना का मतलब का से लक्ष्मेश्वर राय सुपौल से बिजेंद्र प्रसाद यादव रुपौली से बीमा भारती बहादुरपुर से मदन साहनी और आलमनगर से नरेंद्र नारायण यादव समेत मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर है. सुपौल से सर्वाधिक जीत हासिल करने वाले विजेंद्र प्रसाद यादव दिग्गज मंत्री हैं. महत्वपूर्ण यह है कि बिजेंद्र प्रसाद यादव आठवीं वालों लगातार 17 में विधानसभा चुनाव में पहुंचने के लिए खम ठोक रहे हैं.

विधानसभा अध्यक्ष हैट्रिक की दहलीज पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी विजय चौधरी सराय रंजन सीट से हैट्रिक लगाने की दहलीज पर खड़े हैं. 2015 में दूसरी बार सरायरंजन सीट में चौधरी की जीतने के बाद सर्वसम्मति से महागठबंधन की सरकार में विधानसभा अध्यक्ष बनाया गया था. सरकार बदलने के बाद भी चौधरी अपनी कुर्सी बरकरार रखने में कामयाब रहे.input : jagran

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top