शेखपुरा

शेखपुरा…नल जल योजना में गली खोदकर दुरुस्त न करने वाले ठेकेदारों पर गाज गिरना तय

शेखपुरा…नलजल योजना के तहत गली खोदकर उसे दुरुस्त नहीं करने वाले ठीकेदार पर कार्रवाई की गाज गिरती नजर आ रही है।. नगर परिषद ने इस सम्बन्ध में सर्वसम्मत से एक प्रस्ताव पारित कर वैसे सभी ठीकेदार को काली सूचि में डालने का निर्णय लिया है। इन सभी ठीकेदारो की जमा सेक्र्युरिटी राशि भी जप्त करने का प्रस्ताव पास किया गया है।. मुख्य वार्ड पार्षद कुमकुम भारती की अध्यक्षता में परिषद की बैठक सोमवार को आयोजित की गयी।

परिषद की समान्य बैठक में बड़ी संख्या में पार्षद और नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी दिनेश दयाल आदि उपस्थित थे। बैठक में चर्चा के दौरान यह बात समाने आई कि नलजल योजना के तहत पेयजल आपूर्ति के लिए पाईप बीछाने को लेकर खोदे गए गली की पुनः मरम्मत करने की राशि भी इस योजना का भाग है।लेकिन बड़ी संख्या में ठीकेदारो ने गली को ऐसे ही छोड़ दिया है।नगर परिषद की बैठक में नगर क्षेत्र के तीन मध्य विधालय को उच्च विधालय में उप्क्र्मित करने का प्रस्ताव भी पारित किया गया। इस सम्बन्ध में विधालय का चयन करने की जिम्मेवारी शिक्षा विभाग को दी गयी है। शहर में स्ट्रीट लाइट लगाने के मामले में केन्द्रीय एजेंसी इइएसएल को शो कॉज किया गया है छठ के दौरान एजेंसी के सुस्ती के कारण लाइट नहीं लगाने पर नगर क्षेत्र के छठ घाट रतोयिया सहित अन्य स्थानों पर व्रतियो को कठिनाई का सामना करना पड़ा था ।

बैठक में सदर अस्पताल में संस्थागत प्रसव के लिए आने वाली माता को स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा अस्पताल की खमिया बताकर उसे निजी क्लिनिक में प्रसव के लिए प्रेरित करने की बातो की कड़ी निदा की गयी ।. इस सम्बन्ध में एक लिखित शिकायत सिविल सर्जन से करने का निर्णय लिया गया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top