पैसे कमाने के लिए एक्ट्रेस ने बनाये बिस्तर पर अजनबियों संग संबंध, हकीकत पता चली तो मुंह दिखाने के लायक नहीं रही

बॉलीवुड की दुनिया बाहर से जितनी खूबसूरत और रंगीन दिखती है, अंदर की राहें उतनी ही मुश्किलों से भरी हैं। हम सोच भी नहीं सकते कि ये खुशमिजाज अभिनेता और अभिनेत्रियां किस हद तक अंदर से टूट चुके हैं और जब यह बात सामने आती है तो आश्चर्य के सिवा कुछ समझ ही नहीं आता। फिल्मों में सफल होने के बाद भी कुछ अभिनेता अपने निजी जीवन की परेशानियों को संभालने में असफल रहते हैं। और इसी असफलता के कारण वे अपने जीवन में ऐसा कदम उठा लेते हैं जिसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता। आज हम आपके लिए एक ऐसी एक्ट्रेस की कहानी लेकर आए हैं, जिसने अपनी जिंदगी की परेशानियों के सामने घुटने टेककर एक ऐसा कदम उठाया जिसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता।

the actress made relationships with strangers on the bed
पैसे कमाने के लिए एक्ट्रेस ने बनाये बिस्तर पर अजनबियों संग संबंध

इस अभिनेत्री की कहानी आपको बॉलीवुड के उस काले सच से रूबरू कराएगी जो अब तक आपके सामने नहीं आया था। यह कहानी एक ऐसी अभिनेत्री की है जिसके पास पैसों की इतनी तंगी थी कि उसे अपना सेक्स करने के लिए मजबूर होना पड़ा। और यह भी विडंबना ही है कि इस मुश्किल दौर में किसी ने भी उनकी मदद के लिए हाथ नहीं बढ़ाया। यह बात तब सामने आई जब इस एक्ट्रेस ने खुद अपनी पूरी कहानी लोगों के सामने सुनी।

2002 में आई सुपरहिट फिल्म ‘मकड़ी’ तो आपने देखी ही होगी। इस फिल्म से बॉलीवुड एक्ट्रेस श्वेता बसु प्रसाद ने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट इंडस्ट्री में एंट्री की थी। श्वेता उन बाल कलाकारों में से एक थीं, जिन्हें अपनी पहली ही फिल्म से सबसे अच्छी सराहना और प्रशंसा मिली थी। इसके बाद उन्होंने बंगाली, तेलुगु, तमिल सिनेमा में भी अपना अभिनय कौशल दिखाया। श्वेता बसु बड़े पर्दे के अलावा छोटे पर्दे पर भी अपना सिक्का जमाने में सफल रहीं। हालांकि यह शोहरत कुछ ही पलों तक चली, लेकिन धीरे-धीरे उनका करियर लुढ़कता रहा और वह सख्त होते गए।

Copy

हालात इतने खराब हो गए कि उन्हें पैसों के लिए भी दूसरों की रातें बनानी पड़ीं। एक इंटरव्यू में श्वेता ने खुद स्वीकार किया था कि पैसों की तंगी की वजह से उन्हें यह सब करना पड़ा। उनके पास पैसे आने के सारे रास्ते बंद हो गए। इसलिए मजबूर होकर उन्हें यह कदम उठाना पड़ा। हालांकि अब एक्ट्रेस का वह बुरा दौर बीत चुका है। और अपनी पुरानी जिंदगी को भूलकर इन दिनों एक्ट्रेस एक नई शुरुआत करने में लगी हुई हैं। लेकिन यहां सवाल यह है कि श्वेता की तरह बॉलीवुड की ऐसी कितनी अभिनेत्रियां होंगी, जिन्हें पैसों की तंगी से गलत रास्ते पर डाल दिया जाएगा। कौशल और क्षमता दोनों होने के बाद भी श्वेता जैसी कई अभिनेत्रियां काम के लिए दर-दर भटकती हैं।

आपको बता दें कि श्वेता बसु को उनकी पहली फिल्म ‘मकड़ी’ के लिए सर्वश्रेष्ठ बाल कलाकार का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था। श्वेता ने 2002 में विशाल भारद्वाज की फिल्म ‘मकड़ी’ के बाद 2005 में डायरेक्टर नागेश कुनूर की फिल्म ‘इकबाल’ में भी काम किया। उसके बाद उन्हें डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा की फिल्म डरना जरूरी है में भी काम करने का मौका मिला।

Facebook Comments Box