ज़ब एक अनाथ लड़की ने बांधी राखी,तो पुलिस वाले ने कुछ यूं निभाया भाई होने का फर्ज

अक्सर पुलिस को लेकर लोगों के अपने-अपने ख्याल होते हैं, कोई पुलिस को अच्छा बताता है तो कोई बुरा. सबके निजी राय होते हैं. वैसे तो पुलिस का काम लोगों की सेवा करना ही होता है कई बार पुलिस द्वारा ऐसा काम किया जाता है जिससे वह लोगों की नजर में बुरे बन जाते हैं. कई बार रिश्वत लेते हुए तो लोगों को परेशान करते हुए पुलिस को देखा जाता है. ऐसे दो-चार लोगों को देखते हुए हम सब को बुरा नहीं बोल सकते. कई बार पुलिसकर्मी यह साबित करते हैं की पुलिस सच में जन सेवा करती है.

आज हम एक पुलिसकर्मी के बारे में आपको बताने जा रहे हैं जो पुलिस के बारे में आप के नजरिया को बदल कर रख देगी.यह तो सबको पता ही है कि पुलिस का काम जन सेवा करना है मुसीबत में पड़े लोगों की रक्षा करना. हम आपको ऐसे ही एक पुलिसकर्मी के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका नाम है हनुमंत तिवारी. हनुमंत तिवारी न केवल लोगों की सेवा करते हैं बल्कि कई बार तो बेसहारों का सहारा भी बन जाते हैं. आपको बताते चलें कि हनुमंत लाल तिवारी उस समय सबकी नजरों में आए जब उन्होंने अपनी एक मुंह बोली बहन की शादी बड़े ही धूमधाम से अपने पैसों से कराई.

यह पूरा मामला उत्तर प्रदेश के लखीमपुर कस्बा के सिकन्द्राबाद का है। यहां के रहनेवाले विचल त्रिवेदी की बीते वर्ष मौत हो गई। जिसके बाद उनका परिवार बिखर गया था। इस बिखरते परिवार को सहारा मिला कस्बे की पुलिस चौकी पर तैनात प्रभारी हनुमंत लाल तिवारी का। उन्होंने विचल त्रिवेदी की बेटी को अपनी बहन माना और उससे राखी बंधवा ली। थाना प्रभारी हनुमंत ने जब उसे बहन माना तो साथ ही साथ उसके विवाह की जिम्मेदारी भी ले ली।

विचल तिवारी चाट का ठेला लगाते थे और उनकी परिवार की स्थिति भी कोई खास ठीक नहीं है, उनकी पांच बेटियां और एक बेटा है.
हनुमंत तिवारी को एक बार L/O ड्यूटी के दौरान विमल की एक बेटी ने राखी बांधी थी, और अब तिवारी जी ने फर्ज निभा दिया स्वयं खर्चकर धूमधाम से करा दी इस बेटी की शादी।

इसके बाद हनुमंत लाल तिवारी मझगई चौकी के थाना प्रभारी हो गए लेकिन इसके बावजूद वह अपनी जिम्मेदारी नहीं भूले। उन्होंने परिवार के लोगों की सहमति से दिवंगत विचल त्रिवेदी की बेटी अनीता का विवाह बड़े ही धूमधाम से करवाया। दिवंगत की पत्नी कमलेश त्रिवेदी के अनुसार हनुमंत लाल तिवारी ने उनके परिवार के प्रति एक बेटे का हर फर्ज निभाया है। हनुमंत अनीता के तिलक में भी गए थे। विवाह का सारा खर्च थाना प्रभारी हनुमंत ने ही उठाया। इसके अलावा वह अनीता की शादी में एक भाई की तरह अतिथियों के स्वागत के लिए भी खडे रहे.

हनुमंत तिवारी अपने सामाजिक कार्यों के कारण लोगों में काफी प्रसिद्ध है. उन्होंने हाल ही में एक वृद्ध महिला जोनारे भटक रही थी उसे उसके परिवार से मिलाया.हम सलाम करते हैं ऐसे पुलिस कर्मियों को, अपने फर्ज को निभाते हुए जनता की सेवा भी करते हैंऔर हर संभव मदद भी करते हैं.

हम सलाम करते हैं ऐसे पुलिसकर्मियों जो अपना फर्ज निभाते हुए जनसेवा भी करते हैं. हम सलाम करते हैं हनुमंत तिवारी के इस जज्बे को जो देश सेवा का जज्बा उनके अंदर है

Jyoti Mishra

Leave a Comment
Share
Published by
Jyoti Mishra

Recent Posts

शेखपुरा : 27 सितम्बर को बंद को लेकर महागठबंधन की बैठक संपन्न

शेखपुरा, संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा आहुत 27 सितम्बर को भारत बंद को लेकर अखिल भारतीय…

2 hours ago

शेखपुरा : एकसारी बीघा छत पर से पानी गिराने को लेकर विवाद मारपीट, एक महिला  घायल सदर अस्पताल में भर्ती

सदर थाना अंतर्गत एकसारी बीघा गांव में बच्चे के द्वारा छत से पानी गिराने को…

2 hours ago

शेखपुरा : शेखपुरा पुलिस के द्वारा कटरा बाजार में कराया गया अतिक्रमण मुक्त दुकानदारों को दी गई चेतावनी

शेखपुरा शहर के कटरा बाजार में अतिक्रमणकारियों के द्वारा अतिक्रमण किए जाने से लगातार जाम…

2 hours ago

शेखपुरा : शेखपुरा प्रखंड कार्यालय में पेंशन धारियों की जीवन प्रमाणीकरण के लिए किया जा रहा है भौतिक सत्यापन दूसरे दिन भी उम्मीद रही भीड़

शेखपुरा प्रखंड कार्यालय में पेंशन धारियों के जीवन प्रमाणीकरण के लिए भौतिक सत्यापन का कार्य…

2 hours ago

शेखपुरा : दल्लू चौक के समीप विद्यासागर टेडर्स इलेक्ट्रिक गाड़ी शोरूम एवम कवि सम्मेलन का किया गया आयोजन

शेखपुरा दल्लू चौक भोजडीह रोड, शेखपुरा के समीप विद्यासागर टेडर्स इलेक्ट्रिक गाड़ी शोरूम का उद्घाटन…

5 days ago

शेखपुरा : जिले में शनिवार को विभिन्न टीकाकरण केंद्र पर 510 लोगों को दिया गया कोरोना रोधी टीका

कोरोना संक्रमण के तीसरे लहर से बचाव को लेकर जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के…

5 days ago

This website uses cookies.