शेखपुरा न्यूज़

Dm J Priyadarshini: डीएम जे प्रियदर्शनी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट के मंथन सभागार में जिला पंचायती राज एवं जिला ग्रामीण विकास विभाग से संबंधित समीक्षा बैठक सम्पन्न

शेखपुरा। शनिवार को डीएम जे प्रियदर्शनी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट के मंथन सभागार में जिला पंचायती राज एवं जिला ग्रामीण विकास विभाग से संबंधित समीक्षा बैठक सम्पन्न की गई। बैठक में जिला पंचायती राज पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि जिलें में 08 पंचायत सरकार भवन निर्मित है ।जबकि 06 पंचायत सरकार भवन निर्माधीन स्थिति में है।

Dm J Priyadarshini: डीएम जे प्रियदर्शनी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट के मंथन सभागार में जिला पंचायती राज एवं जिला ग्रामीण विकास विभाग से संबंधित समीक्षा बैठक सम्पन्न
पंचायती राज और ग्रामीण विकास विभाग के कार्यों की बैठक में समीक्षा

वितीय वर्ष 2022-23 में 19 स्वीकृत पंचायत सरकार भवन में से 07 का सीमांकन किया गया है। जिसमें अरियरी प्रखंड के ग्राम पंचायत डीहा में पंचायत सरकार भवन के लिए भूमि का चयन करने का निदेश दिया गया है। वितीय वर्ष 2023-24 में 16 पंचायत सरकार भवन निर्माण के लक्ष्य के विरूद्ध सभी के लिए भूमि का प्रस्ताव प्राप्त हुआ है।वर्तमान में सभी पंचायतों मे आरटीपीएस काॅन्टर संचालित है। मुख्यमंत्री ग्रामीण सोलर स्ट्रीट लाईट योजना कुल 49 पंचायतों में 1960 अद्यतन लक्ष्य के विरुद्ध 1302 का अधिष्ठापन किया गया है । 984 सोलर लाईट का भुगतान कर लिया गया है शेष का भुगतान की करवाई की जा रही है।

सरकार की कल्याणकारी योजनाएं यथा जल-जीवन-हरियाली,महात्मा गाधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना, रोजगार मांग सृजन, जाॅबकार्ड सत्यापन की स्थिति, अमृत सरोवर, आदि योजनाओं के संबध में भी जायजा लिया गया । आधार सिडिंग रोजगार गारंटी योजना के तहत कुल सक्रिय लाभार्थियों की संख्या 99327 जिसमें से 96027 का आधार अच्छादन कर लिया गया है,शेष 3300 का भी आधार सत्यापन करने का निदेश दिया गया है। आधार अच्छादन का कुल प्रतिशत 96.68 है। रोजगार मांग सृजन का लक्ष्य 2024 में 537422 था, जिसमें जाॅबकार्डधारी परिवारों की संख्या 19459 तथा रोजगार प्राप्त करने वाले जाॅबकार्डधारी 13016 है जिसका 41.09 प्रतिशत है।

डीएम द्वारा जिलें में चल रहें योजनाओं का जानकारी लियें और शेष लंबित योजनाओं को संबंधित पदाधिकारी के साथ समन्वय स्थापित कर ससमय पूर्ण करने का भी निदेश दिया। मध्याह्न भोजन योजना का औचक निरीक्षण कर रहें सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को सराहा गया। सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के अवरोध की स्थिति में आपसी समन्वय स्थापित कर अवरोधों/समस्याओं को दूर करने का निदेश दिया गया । गोवर्धन योजना अंतर्गत चल रहें अपूर्ण योजनाओं को सही तरीके से पूर्ण करने का निदेश दिया गया।इस मौके और डीडीसी संजय कुमार, जिला पंचायत राज पदाधिकारी धर्मेश कुमार,बीडीओ, प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी, मनरेगा पीओ, के साथ-साथ अन्य पदाधिकारीगण आदि उपस्थित थें।

Advertisement
कितनी है एक कप चाय की कीमत? एक दिन में इतना पैसा कमाता है Dolly चायवाला? अगर आपको सांप डस ले तो भूलकर भी ना करें ये 6 काम जैकलिन फर्नांडीज ने रेड रिविलिंग ड्रेस में उड़ाए लोगों के होश बिना मेकअप पति संग बच्चों के स्कूल पहुंची ईशा अंबानी, पहना था इतना सस्ता कुर्ता इंटरनेट से पहले बच्चे ऐसे करते थे मौज-मस्ती