ताज़ा खबरेंदुनिया की खबरें

Artificial Intelligence: दुनिया को मिली आर्टिफिशियल वैज्ञानिकों की ताकत, 12 चेहरे और 10 साल, दिन रात लगाया दिमाग

ChatGPT के आने के बाद पिछले साल से ही आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को लोगों ने करीब से जाना है। इसके बाद कई कंपनियों ने एक के बाद एक कई कंपनी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मॉडल्स को पेश किया। यह टेक्नोलॉजी जो लोगों के दिमाग की तरह काम करती है लोगों ने भले ही इसे अभी जाना है। लेकिन सिलिकॉन वैली के रिसर्च इन्वेस्टर और टेक एग्जीक्यूटिव्स के दिमाग में करीब एक दशक से था। हम उन लोगों के नाम आपको बताने जा रहे हैं जो लोग मॉडर्न आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की उत्पत्ति के आंदोलन में शामिल रहे। और टेक्नोलॉजी के डेवलपमेंट में अहम भूमिका निभाई।

1.Sam Altman: ऑल्टमैन OpenAI के चीफ एग्जीक्यूटिव है। ये हैं फ्रांसिस्को बेस्ड AI कंपनी है जिसने ChatGPT को बनाया है इस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मॉडल के आने के बाद लोगों ने AI के पावर को पहचाना था। ऑल्टमैन ने 2015 में टेक्नोलॉजी के बारे में एलन मस्क के साथ मुलाकात के बाद OpenAI शुरू करने में सहायता की थी। उस वक्त ऑल्टमैन सिलिकॉन वैली स्टार्ट- अप इनक्यूबेटर वाई कांबिनेटर चलाते थे।

2.Dario Amodei: अमुदही है आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस रिसर्चर है जो OpenAI को शुरू में ज्वाइन किया था और अब यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस स्टार्टअप Anthropic चलाते हैं। पहले यह गूगल में रिसर्चर थे। इन्होंने OpenAI के रिसर्च डायरेक्शन को सेट करने में मदद की थी। इन्होंने कंपनी के साथ मतभेदों को चलते 2021 में छोड़ दिया था। इसी साल इन्होंने Anthropic की शुरुआत की थी। यह सेफ AI सिस्टम्स बनाने में डेडीकेटेड है।

3.Bill Gates: गेट्स microsoft के फाउंडर है और सालों तक दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति भी रहे हैं। इन्हें लंबे समय से आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस को लेकर काफी दिलचस्पी रहा है ।फिर साल 2022 में इन्हें OpenAI के GPT -4 क्या कर सकता है। उनके समर्थन में माइक्रोसॉफ्ट को जेनरेटिव ए.आई. का लाभ उठाने के लिए आक्रामक रूप से आगे बढ़ने में मदद की।

4.Demis Hassabis: हसाबीस, न्यूरो साइंटिस्ट डीपमाइड के संस्थापक हैं, जो ए.आई. के इस दौर का एक प्रमुख लैब है।हसाबिस ने निवेशक पीटर थिएल से डीपमाइड बनाने के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त की और एक लैब बनाई जिसने AlphaGo को प्रोड्यूल किया। यह एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर जिसने 2016 में दुनिया को उस समय चौंका दिया जब इसने बोर्ड गेम गो के दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी को हरा दिया। Google ने 2014 में DeepMind को खरीदा, जो ब्रिटेन में स्थित है और हसाबिस कंपनी के शीर्ष आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस(AI) अधिकारियों में से एक है।

5.Eliezer Yudkowsky: युडकोव्सकी, एक इंटरनेट फिलॉस्फर और सेल्फ टॉट आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रिसर्चर है। इन्होंने टेक्नोलॉजी के दार्शनिक सोच का बीजारोपण करने में काफी मदद की।

6.Elon Musk: एलन मस्क टेस्ला और SpaceX के फाउंडर है। इन्होंने 2015 में OpenAI की स्थापना में मदद की थी। एलन मस्क लंबे समय से ए.आई. के संभावित खतरों के बारे में परेशान थे। ऑल्टमैन से असहमती के बाद मस्क ने 2018 मे Open आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को छोड़ दिया।

6.Geoffrey Hinton: हिंटन टोरंटो विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर हैं। इन्होंने अपने दो ग्रेजुएट स्टूडेंट के साथ मिलकर न्यूरल नेटवर्क को क्रिएट किया, जो ए.आई. कि इस लहर की एक मेजर टेक्नोलॉजी है। न्यूरल नेटवर्क्स ने टेक जगत को प्रभावित कर दिया और गूगल ने हिंटन और उनके टीम को अपने साथ लाने के लिए 2012 में 44 मिलियन डॉलर पे किया था।

7.Larry Page: लैरी पेज ने सर्गी ब्रीन के साथ मिलकर गूगल की स्थापना की थी। पेज लंबे समय से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और इसके बेनिफिट के समर्थक रहे हैं। इन्होंने 2014 में गूगल द्वारा DeepMind के अधिग्रहण पर जोर दिया था। पेज का आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में अधिक आशावादी दृष्टिकोण है। दूसरों की तुलना में पेज सिलिकॉन वैली के अधिकारियों को बताते रहे हैं कि रोबोट और इंसान एक दिन सौभाग्यपूर्ण ढंग से रहेंगे।

8.Mark Zuckerberg:
मार्क जकरबर्ग मेटा के चीफ एग्जीक्यूटिव है। मेटा के फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप जैसी कंपनियां है। जकरबर्ग ने कम से कम एक दशक तक A.I. पर जोर दिया है। AI के पावर को पहचानते हुए Google द्वारा विजई बोली लगाने से पहले इन्होंने डीपमाइड को खरीदने की भी कोशिश की थी।

9.Peter Thiel: थियल पेपल के एक्जीक्यूटिव रहे और बाद में वेंचर कैपिटलिस्ट बने। इन्होंने फेसबुक में शुरूआती इन्वेस्टमेंट कर काफी पैसा कमाया। यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस लैब में भी एक प्रमुख निवेशक रहे हैं। इन्होंने पहले DeepMind और बाद मे OpenAI में पैसा लगाया।

10.Reid Hoffman: हॉफमैन PayPal के फार्मर एग्जीक्यूटिव थे। इन्होंने Linkdin की स्थापना भी की थी। बाद में यह वेंचर कैपिटलिस्ट बन गए। यह मस्क और थिएल के साथ उस ग्रुप का हिस्सा थे, जिन्होंने OpenAl में एक बिलियन डॉलर इन्वेस्ट किया था।

11.सत्या नडेला: माइक्रोसॉफ्ट के प्रमुख एक्यूक्यूटिव नडेला ने 2019 और इस साल ओपनएआई में कंपनी के निवेश का नेतृत्व किया और उस समय के लिए 13 मिलियन डॉलर का योगदान दिया। माइक्रोसॉफ्ट टैब से आर्टिफिशियल इंस्टीट्यूट पर पूरी तरह से कब्ज़ा हो गया है। आर्टिफिशियल साइंसेज की टेक्नोलॉजी को अपनी बिंग सर्च इंजनों से खोलें और इसमें कई अन्य प्रोडेक्ट्स शामिल हैं।

पिज्जा बर्गर की तरह खाता है जानवरों का कच्चा मांस 10 साल किया बैडमिंटन खिलाड़ी को डेट, दुल्हन बनने को तैयार तापसी? एक्ट्रेस ने बताया सच प्रेग्नेंट है एक्ट्रेस, चलानी सीखी मशीन गन… ली मिलिट्री ट्रेनिंग, वीडियो देख फैंस के छूटे पसीने 200 जिम के मालिक, दिया 30 करोड़ टैक्स, अभी भी कुछ ऐसा है धोनी का जलवा क 25 की अनन्या ने खरीदा पहला घर, अंदर से है आलीशान, गौरी खान ने किया डिजाइन