ताज़ा खबरें

Bihar News : दिसंबर में शुरू होगा शराबबंदी पर घर-घर सर्वे, क्या सवाल पूछेगी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

बिहार में जातीय गणना के तर्ज पर शराबबंदी को लेकर भी घर-घर सर्वेक्षण होगा। सीएम नीतीश कुमार के द्वारा रविवार को इसकी घोषणा के बाद निषेध, उत्पादन और पंजीकरण विभाग तैयारी में लग गई है। कहा जा रहा है कि दिसंबर के मध्य में यह सर्वेक्षण राज्य भर में शुरू किया जाएगा। सर्वेक्षण के दौरान नीतीश सरकार यह जानेंगी कि राज्य में कितने लोग शराब बंदी के पक्ष में है और कितने नहीं।

निषेध, उत्पाद और पंजीकरण विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर कहा है कि सर्वेक्षण के तौर तरीकों पर काम करने के लिए उत्पाद शुल्क और अन्य विभागों ने में विभिन्न स्तरों पर चर्चा की जा रही है। सर्वे में कुछ एजेंसियां भी शामिल होगी और इसे जल्द ही अंतिम रूप दिया जाएगा। सर्वेक्षण अस्थाई रूप से दिसंबर के मध्य से शुरू होने की संभावना है।

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि सर्वेक्षण के लिए एक प्रश्नावली को अंतिम रूप दिया जाएगा, जिसमें लोगों से पूछा जाएगा की क्या वह शराब बंदी के समर्थन में है या नहीं। पारिवारिक आय, परिवारों के सामाजिक- आर्थिक स्थिति और कुछ अन्य प्रश्न भी शामिल होंगे। प्रश्नावली को अंतिम रूप दिया जा रहा है। ऐसे कई प्रश्न होंगे जिनमें सर्वेक्षण के दौरान परिवारों से पूछा जाएगा।

साल 2023 की शुरुआत में बिहार ग्रामीण आजीविका परियोजना के सहयोग से चाणक्य लॉ यूनिवर्सिटी द्वारा शराबबंदी के प्रभाव पर एक सर्वेक्षण किया गया था। यह सर्वेक्षण राज्य के सभी जिलों के 534 ब्लॉकों के 3300 गांव में किया गया था, जिसमें 10 लाख 22 हजार 467 लोगों को शामिल किया गया। सर्वेक्षण के दौरान पता चला कि 1.82 करोड़ लोगों ने शराब पीना छोड़ दिया था। यह भी पता चला कि 99 % महिलाएं शराबबंदी के पक्ष में थी जबकि 92% पुरुष शराब बंदी के पक्ष में थे।

सीएम नीतीश कुमार ने रविवार को नशा मुक्ति दिवस पर अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि एक-एक घर में जाकर पता कीजिए कि कितने लोग शराबबंदी के पक्ष में है और कितने इसके खिलाफ हैं। जो पक्ष में नहीं है उन्हें समझाइए कि शराब बहुत खराब चीज है, इसका सेवन नहीं करना चाहिए। सर्वे के बाद लोगों से अपील कीजिए और उनको एक जगह किसी दिन जनवरी में शराब बंदी के पक्ष में एकत्र कराएं।

2018 में सर्वे कराया गया तो पता चला कि एक करोड़ 64 लाख लोगों ने शराब पीना छोड़ दिया है। साल 2023 के सर्वेक्षण से पता चला कि एक करोड़ 82 लाख लोगों ने शराब पीना छोड़ दिया है।सर्वे से यह भी पता चला कि 99% महिलाएं और 92% पुरुष शराबबंदी के पक्ष में है।

शराब बंदी को लेकर प्रतिदिन हमारे पास रिपोर्ट आती है। शराबबंदी का उल्लंघन करने में बहुत लोगों पकड़े गए हैं। बाहर से अभी भी बहुत शराब आती है। राज्य की सीमा क्षेत्र में अलर्ट रहिए। कैसे कोई बाहर से लेकर आ जाता है। बहुतों को पकड़ा भी गया है। पांच- पांच साल की सजा मिली है, पर आगे और सतर्क रहना है।

पिज्जा बर्गर की तरह खाता है जानवरों का कच्चा मांस 10 साल किया बैडमिंटन खिलाड़ी को डेट, दुल्हन बनने को तैयार तापसी? एक्ट्रेस ने बताया सच प्रेग्नेंट है एक्ट्रेस, चलानी सीखी मशीन गन… ली मिलिट्री ट्रेनिंग, वीडियो देख फैंस के छूटे पसीने 200 जिम के मालिक, दिया 30 करोड़ टैक्स, अभी भी कुछ ऐसा है धोनी का जलवा क 25 की अनन्या ने खरीदा पहला घर, अंदर से है आलीशान, गौरी खान ने किया डिजाइन