लव क्राइम

Muzaffarpur Crime : जानिए कमरा नंबर 202 और दो लड़कियों की कहानी बिहार और यूपी की इन हाई प्रोफाइल युवतियों ने किया हैरान कर देने वाला काम

बिहार के मुजफ्फरपुर में पुलिस ने दो युवतियों को गहने चोरी करने के आरोप में गिरफ्तार किया। बताया जा रहा है यह काफी हाई प्रोफाइल चोर है। पहले यह दोनों दोस्ती करती है और फिर वारदात को अंजाम देती है।

बिहार के मुजफ्फरपुर में पुलिस ने दो हाई प्रोफाइल महिलाओं को चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया है।पुलिस ने दोनों के पास से लाखों रुपए के गहने बरामद किए हैं। दोनों पर आरोप है कि यह शादी के घर में घुसकर दुल्हन और अन्य महिलाओं के गहने चुरा ले लेती थी और फिर फरार हो जाती थी।

यह मुजफ्फरपुर के होटल में रह रही थी फिलहाल पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है। दरअसल, पूर्वी चंपारण जिले के मोतिहारी स्थित ढाका नगर परिषद के चैनपुर ढाका निवासी जनार्दन साह के पुत्र कन्हैया की शादी थी।

आरोप है कि दोनों शादी के बाद घर से दुल्हन और एक अन्य महिला का गहने चुरा कर फरार हो गई। दोनों युवतियों को ढाका थाना पुलिस ने मुजफ्फरपुर स्थित एक होटल के कमरा नंबर 202 से गिरफ्तार किया है।

मोतीहारी पुलिस ने दोनों के पास से एक बैग भी बरामद किया है, जो चोरी के गहनों से भरा हुआ था। एक जोड़ा झुमका और दो अंगूठी अभी भी बरामद नहीं हो पाई है पुलिस को शक है कि यह गहन युक्त ने बेच दिए हैं। विशेष पूछताछ के बाद वहां से दोनों को न्यायिक हिरासत में मोतिहारी भेज दिया गया।

गिरफ्तार युवतियों में उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के धनगढ़ा निवासी शिखा दुबे और मुजफ्फरपुर निवासी जाह्नवी सिंह शामिल हैं। बताया गया कि जाह्नवी ब्रह्मपुरा थाना क्षेत्र के बीबीगंज गांधीनगर स्थित एक किराये के मकान में रहती थी। वह मूल रूप से मधुबनी जिले की रहने वाली है।

सदर थानेदार कुंदन कुमार ने बताया कि ढाका पुलिस रेड करने आई थी। उसे सहयोग कर दोनों युवती को गिरफ्तार कर वहां भेजा गया है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर उन्हें होटल से गिरफ्तार किया जिसे इनोवा गाड़ी को आरोपी युवतियां अपने दादा की बता रही थी, वह पटना से भाड़े पर लेकर 14 दिसंबर को ढाका पहुंची थी। उस दिन से वह अपने साथ रखी थी।

मामले की सूचना पर पटना टूर ट्रैवल्स वाले ढाका पहुंच कर अपनी गाड़ी छुड़ा ले गए। यह बात भी सामने आ रही है कि इन युवतियों ने अपने आप को एमबीबीएस की छात्रा बताया था और 5 दिनों तक पूरे परिवार को झांसे में रखा था। लोगों ने इस दौरान खूब खातिरदारी भी की थी।

कन्हैया के घर वालों ने दोनों के रहने का इंतजाम होटल में कर दिया था।18 दिसंबर को 10-12 रिश्तेदार चले गए, तो दोनों गहने लेकर निकल गई। किसी को इसकी भनक नहीं थी। कन्हैया भी साथ मोतिहारी तक गया था।

कन्हैया को 2020 में कोरोना लॉकडाउन के दौरान उसकी मुलाकात जाह्नवी सिंह से मोतिहारी में हुई थी। बाद में उसने उसे शिखा दुबे से मिलवाया। जाह्नवी और शिखा ने उसे अपने प्रभाव में ले लिया था। कन्हैया उसे ऊंची पहुंच वाली महिला समझ दोस्ती कर ली थी। और दोनों को अपनी शादी में बुलाया था। घटना के बाद कन्हैया खुद मुजफ्फरपुर पहुंच होटल परिसर में युवतियों के बैग आदि की तलाशी करवायी।

कितनी है एक कप चाय की कीमत? एक दिन में इतना पैसा कमाता है Dolly चायवाला? अगर आपको सांप डस ले तो भूलकर भी ना करें ये 6 काम जैकलिन फर्नांडीज ने रेड रिविलिंग ड्रेस में उड़ाए लोगों के होश बिना मेकअप पति संग बच्चों के स्कूल पहुंची ईशा अंबानी, पहना था इतना सस्ता कुर्ता इंटरनेट से पहले बच्चे ऐसे करते थे मौज-मस्ती