स्नेक फैक्ट्स

King Cobra: किंग और इंडियन कोबरा में क्या अंतर है, दोनों ने एक- दूसरे को काटा तो क्या होगा

एल्विस यादव की रेव पार्टी के संबंध में जो कोबरा सांप पुलिस ने बरामद किया था, उन्हें जंगल में छोड़ दिया गया है। कोबरा सांप को सबसे खतरनाक माना जाता है। पर कोबरा सांप भी मुख्य तौर पर दो प्रकार के होते हैं- किंग कोबरा और इंडियन कोबरा। क्या आपको पता है कि इन दोनों के बीच क्या फर्क होता है।

King Cobra: किंग और इंडियन कोबरा में क्या अंतर है, दोनों ने एक- दूसरे को काटा तो क्या होगा
King Cobra: किंग और इंडियन कोबरा में क्या अंतर है, दोनों ने एक- दूसरे को काटा तो क्या होगा

किंग कोबरा आकार और वजन दोनों में इंडियन कोबरा से बड़ा होता है। किंग कोबरा का वजन 7 – 8 किलो का होता है और लंबाई 19 फीट तक हो सकती है। इंडियन कोबरा का वजन 03 किलो का होता है और लंबाई करीब 7 फीट तक होती है।

किंग कोबरा आम तौर पर भूरे या जैतून हरे रंग के होते हैं, जिन पर हल्के पीले रंग की धारियां और काला सर होता है। इंडियन कोबरा का रंग अलग-अलग होता है, लेकिन वह अक्सर भूरे, स्लेटी या काले रंग के होते हैं। उनके सिर के पीछे एक हुड का निशान होता है।

किंग कोबरा अधिक जहर इंजेक्ट कर सकते हैं, उसमें इतना जहर होता है कि एक बार में 11 लोगों को मार सकता है। इंडियन कोबरा का जहर अधिक केंद्रित होता है। वह एक बार में 10 लोगों को ही मार सकता है। यह किलर सांप कहलाता है जो हर साल करीब 15000 लोगों को मारता है। यह ऊंचाई वाले इलाकों और रेगिस्तानों को छोड़कर पूरे भारत में मिलते हैं। आमतौर पर जंगलों, कृषि भूमि और मानव बस्तियों के पास मिलते हैं।

किंग कोबरा भारतीय कोबरा से बड़ा होता हैं। इन सांपों का वजन 15 पाउंड और लंबाई 19 फिट हो सकती है। यह दुनिया का सबसे जहरीला सांप है। भारतीय कोबरा काफी छोटा होता है। और औसत के उच्चतम स्तर पर उसका वजन केवल 6 पाउंड होता है। और ज्यादातर मामलों में उसकी लंबाई लगभग 7 फिट होती है। हालांकि, लगभग 10 फीट लंबे बड़े भारतीय कोबरा पाए गए हैं।

एक किंग कोबरा अपने दुश्मनों को काटने पर 1,000 मिलीग्राम तक जहर डाल निकाल सकता है। इंडियन कोबरा उस मात्रा का केवल एक चौथाई हिस्सा ही इंजेक्ट करता है, और अधिकतम 250 मिलीग्राम तक। इंडियन कोबरा का जहर ज्यादा मजबूत होता है।

वैसे तो किंग कोबरा शायद ही कभी इंसानों को मारता है। सबसे ज्यादा वह अपना फन फैला कर ज्यादा डरता है। वह कटता तभी है, जब उसे लगता है कि वह सच में खतरे में है। इंडियन कोबरा इंसानों को खूब काटता है।

किंग कोबरा और इंडियन कोबरा के दांत छोटे, मजबूत और स्थिर होते हैं। उनके दांत अन्य सांपों की तरह मुड़े हुए नहीं होते हैं। किंग कोबरा के दांत बड़े 0.5 इंच के होते हैं यानी आप यह कह सकते हैं मानव दांतों के बराबर जबकि इंडियन कोबरा के दांत 0.3 इंच के होते हैं। दोनों अपने नुकीले दांतों से जहर छोड़ते हैं।

किंग कोबरा भारतीय उपमहाद्वीप के साथ दक्षिण पूर्व एशिया के कई हिस्सों में पाए जाते हैं तो इंडियन कोबरा केवल भारतीय उपमहाद्वीप में ही मिलता है। इंडियन कोबरा का वैज्ञानिक नाम नाजा है। यह सांप नाजा प्रजाति का सदस्य होने के कारण असली कोबरा है। किंग कोबरा, अपने नाम के बावजूद असली कोबरा नहीं है। इस सांप का वैज्ञानिक नाम ओफियोफैगस हन्ना है।

अगर किंग कोबरा और इंडियन कोबरा में लड़ाई हो तो किंग कोबरा के जीतने के चांस ज्यादा होते हैं। इसका कारण यह भी है कि किंग कोबरा कहीं अधिक बड़ा, अधिक शक्तिशाली और बड़े नुकीले दांतों वाला होता है।

अगर किंग कोबरा और इंडियन कोबरा एक दूसरे को काटे तो निश्चित तौर पर दोनों का जहर एक दूसरे को खत्म कर देगा। काटने की स्थिति में दोनों ही एक दूसरे के शरीर में बहुत जहर पहुंचाएंगे, वैसे बड़ा सांप छोटे की तुलना में अधिक समय तक जीवित रहेगा। वैसे जब इन दोनों सांपों में लड़ाई होती है तो किंग कोबरा जीतता जरूर है लेकिन अपनी जीत का जश्न ज्यादा समय तक नहीं माना पता है। क्योंकि दोनों एक दूसरे के शरीर में काट- काटकर इतना जहर पहुंचा चुके होते हैं कि वे बचते नहीं है।

पिज्जा बर्गर की तरह खाता है जानवरों का कच्चा मांस 10 साल किया बैडमिंटन खिलाड़ी को डेट, दुल्हन बनने को तैयार तापसी? एक्ट्रेस ने बताया सच प्रेग्नेंट है एक्ट्रेस, चलानी सीखी मशीन गन… ली मिलिट्री ट्रेनिंग, वीडियो देख फैंस के छूटे पसीने 200 जिम के मालिक, दिया 30 करोड़ टैक्स, अभी भी कुछ ऐसा है धोनी का जलवा क 25 की अनन्या ने खरीदा पहला घर, अंदर से है आलीशान, गौरी खान ने किया डिजाइन