शेखपुरा न्यूज़

सदर अस्पताल में नवजात शिशु के विशेष देखभाल हेतू राष्ट्रीय नवजात शिशु सप्ताह कार्यक्रम का शुभारंभ

शेखपुरा। जिले के सदर अस्पताल में नवजात शिशु के विशेष देखभाल हेतू राष्ट्रीय नवजात स्वास्थ्य सप्ताह का शुभारंभ किया गया। इस कार्यक्रम की शुरुआत सिविल सर्जन डॉक अशोक कुमार के द्वारा किया गया। कार्यक्रम का आयोजन पीरामल फाउंडेशन तथा स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से किया गया था!गौरतलब हो कि नवजात शिशु के जन्म के बाद पहले 28 दिन उसके जीवन के विकास के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण होता है।

सदर अस्पताल में नवजात शिशु के विशेष देखभाल हेतू राष्ट्रीय नवजात शिशु सप्ताह कार्यक्रम का शुभारंभ
नवजात शिशु सप्ताह कार्यक्रम का शुभारंभ

बचपन के किसी अन्य अवधि की तुलना में नवजात के मृत्यु की संभावना इस दौरान अधिक होती है। इसलिये कहा जाता है कि नवजात के जीवन का पहला महीना आजीवन उसके स्वास्थ्य व विकास के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण होना है। शिशु मृत्यु दर के मामलों में कमी लाने व छह माह तक शिशुओं के बेहतर देखभाल के प्रति आम लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से हर साल नवजात सुरक्षा सप्ताह मनाया जाता है।

इस साल “सुरक्षा, गुणवत्ता और पोषण देखभाल, प्रत्येक नवजात शिशु का जन्मसिद्ध अधिकार” की थीम पर नवजात सुरक्षा सप्ताह का आयोजन जिले में किया जा रहा है, जिसकी शुरुवात ज़िला अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड में रिबन काट कर सिविल सर्जन डॉ अशोक कुमार ने किया,नवजात सुरक्षा सप्ताह कार्यक्रम को महत्वपूर्ण बताते हुए सिविल सर्जन डॉ अशोक कुमार ने एसएनसीयू मे एडमिट बच्चो के माताओं तथा परिजनों को बताया कि जन्म के पहले 28 दिनों में नवजात मृत्यु के अधिकांश मामले घटित होते हैं।इसलिए उनकी अच्छे से देखभाल करना बहुत ज़रूरी हो जाता है,उन्हों ने बच्चो के देख -भाल और केयर कैसे करना है।

कितनी है एक कप चाय की कीमत? एक दिन में इतना पैसा कमाता है Dolly चायवाला? अगर आपको सांप डस ले तो भूलकर भी ना करें ये 6 काम जैकलिन फर्नांडीज ने रेड रिविलिंग ड्रेस में उड़ाए लोगों के होश बिना मेकअप पति संग बच्चों के स्कूल पहुंची ईशा अंबानी, पहना था इतना सस्ता कुर्ता इंटरनेट से पहले बच्चे ऐसे करते थे मौज-मस्ती