स्नेक फैक्ट्स

Snakes Big Fears : जाने किन चीजों से डरते हैं सांप, किचन में मौजूद है यह आठ चीजे जिनके पास नहीं फटकते हैं सांप

ज्यादातर लोग सांप को देखकर डर जाते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसी कई चीजे हैं जिनसे सांप खुद डरते हैं।ऐसी आठ चीज हैं जिनके डर से सांप कभी भी आसपास नहीं फटकते हैं.

सांप ऐसी जगह पर दिखाई देते हैं जहां आप सोच भी नहीं सकते हैं और आपका गलत व्यवहार इन्हें खतरनाक भी बना देता है। वही लोग सांप को देखकर चौंक भी जाते हैं जितना हम सांप से डरते हैं उतना ही सांप भी इंसानों को देखकर डरते हैं। इंसानों के साथ ही सांप आठ चीज और भी है जिसे बेहद ज्यादा डरते हैं और यह चीज घरों में पाई जाती हैं।

सांप सबसे ज्यादा सांपों से ही डरते हैं। खासतौर पर दूसरी प्रजाति के सांपों से इन्हें बहुत डर लगता है। सांप अपने से दूसरे छोटे सांपों को खा जाते हैं। सांपों के बीच अक्सर लड़ाई भी देखी जाती है।कुछ प्रजातियों के सांप किंग कोबरा और वाइपर समेत दूसरे सांपों से नहीं डरते हैं।

सांपों को अधिकतर खतरनाक शिकारी भी कहा जाता है लेकिन वह दूसरे जानवरों का शिकार भी बन जाते हैं। सांप बड़े शिकारी जानवरों के हमले से डरते हैं।इस स्थिति से बचने के लिए सांप दिन में गुफाओं या बिलों में छुपकर रहते हैं।

सांप रात को भोजन की तलाश में निकलते हैं।अगर सांप खतरा महसूस करता है तो वह रक्षा तंत्र के तौर पर अपनी ग्रंथियां से बदबूदार तरल पदार्थ छोड़ता है और वह अपने हमलावर को कुंडली मार कर डराने की कोशिश भी करता है।इसके बाद भी कुछ जानवर और पक्षी सांपों का जमकर शिकार करते हैं. इनमें बाज, चील, लोमड़ी, नेवला और रैकून शामिल हैं.

कुछ लोग डर और जानकारी की कमी के कारण सांपों को देखते ही मार डालते हैं।आपको बता दे की सभी प्रजाति के साथ खतरनाक नहीं होते हैं। सांप किसी दूसरे शिकारी के मुकाबले इंसान से सबसे ज्यादा डरते हैं।सांप रोशनी के प्रति भी काफी संवेदनशील होते हैं इसलिए उन्हें रोशनी वाली जगह से दूर देखा जाता है।इनकी आंखें रात में देखने के लिए बनी होती है इसलिए दिन की रोशनी उनकी आंखों की रोशनी के लिए पीड़ादायक होती है ज्यादा तेज रोशनी में सांप अंधे भी हो जाते हैं।

सांपों को तेज आवाज यानी शोर से भी डर लगता है। सांप अपने सुनने की क्षमता के जरिए खाने की तलाश करता है और शिकारी से दूरी बना लेता है।अचानक उसके आसपास के शोर हो तो वह अपने आप को असुरक्षित महसूस करता है।तेज शोर से उनके कानों को नुकसान भी पहुंच सकता है. सांप की केंचुली काफी नाजुक होती है. इसलिए अगर कोई उन्‍हें कसकर पकड़ने की कोशिश करता है तो उन्‍हें खतरे का आभास होता है. ऐसे में सांप किसी के भी छूने से घबरा जाते हैं.

सांप को तेज खुशबू से भी काफी डर लगता है। तीखी गंध से उनकी दिशा तय करने की क्षमता पर असर पड़ता है अगर किसी जगह तेज गंध रही हो तो उन्हें भोजन ढूंढने में दिक्कत होती है। सांप अपने शिकारी की गंध बहुत जल्‍द सूंघ लेते हैं. लहसुन, नींबू, दालचीनी और मिंट की खुश्‍बू से सांप खासतौर पर घबराते हैं. इसके अलावा सांप तापमान में बदलाव से भी बहुत डरते हैं. जंगलों में सांप अपने शरीर के तापमान को बनाए रखने के लिए आसपास के वातावरण पर निर्भर करते हैं.

जब सांप डर जाता है तो उसमें एड्रेनालाइन बढ़ जाता है. ऐसे में सांप कुंडली मारकर बैठ जाता है और हमले के लिए तैयार हो जाता है.फिर भी ज्‍यादातर सांप प्राकृतिक तौर पर आक्रामक नहीं होते हैं. वे खतरा महसूस होने पर ही हमला करते हैं.

सांप आग और कुत्‍तों से भी डरते हैं. आग देखते ही सांप कुंडली मारकर बैठ जाते हैं.कुछ छिपकलियों से भी सांपों को डर लगता है. मंगूज से सांपों को काफी डर लगता है, क्‍योंकि इन्‍हें सांपों का प्राकृतिक शिकारी माना जाता है. वहीं, बिल्लियां भी सांपों का शिकार करने में माहिर मानी जाती हैं. कुछ शोधों के मुताबिक, सांपों को बिल्लियों के आसपास होने का आभास भी बहुत जल्‍दी हो जाता है.

कितनी है एक कप चाय की कीमत? एक दिन में इतना पैसा कमाता है Dolly चायवाला? अगर आपको सांप डस ले तो भूलकर भी ना करें ये 6 काम जैकलिन फर्नांडीज ने रेड रिविलिंग ड्रेस में उड़ाए लोगों के होश बिना मेकअप पति संग बच्चों के स्कूल पहुंची ईशा अंबानी, पहना था इतना सस्ता कुर्ता इंटरनेट से पहले बच्चे ऐसे करते थे मौज-मस्ती