लव क्राइम

Sex Racket : सेक्स रैकेट की मास्टरमाइंड पकड़ी गई अपनी ही बेटी बेटों और दामाद के साथ, अन्य तीन भी हुए गिरफ्तार

बताया जा रहा है कि बंटी नाम का शख्स उसे ज्वालापुर में एक कॉलेज के पीछे स्थित कालोनी में ले गया जहां उसने और दो महिलाओं ने अनजान व्यक्ति के साथ उसे शारीरिक संबंध बनाने के लिए कहा ऐसा न करने पर उसे जान से मारने की धमकी भी दी गई। पीड़िता ने बताया कि उसके साथ दुष्कर्म किया गया है।

उत्तराखंड के हरिद्वार में पुलिस ने एक सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है।इस केस का खुलासा तब हुआ जब पीड़िता ने देह व्यापार से जुड़े उन सभी लोगों को पहचान लिया और पुलिस में उनकी शिकायत की।पीड़िता ने पुलिस में यह शिकायत दर्ज करवाई है कि उसे जबरदस्ती देह व्यापार करने के लिए मजबूर किया गया और दुष्कर्म भी किया गया और ऐसा काम न करने पर उसे जान से मारने की धमकी भी दी गई है।

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने पीड़िता के बताए हुए ठिकाने पर छापा मारा तो महिला सरगना समेत तीन और आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। तीनों को कोर्ट भेज दिया गया है। मुख्य आरोपी महिला का दामाद फरार हो गया है। पुलिस अभी उसकी तलाश कर रही है।

बताया जा रहा है कि हरिद्वार की रहने वाली पीड़िता ने यह बताया कि घरवालों से परेशान होकर वह अलग रहना चाहती थी। इसी दौरान नौकरी और घर की तलाश में उसकी मुलाकात हरिद्वार में ही रहने वाले आशु प्रधान नाम के एक शख्स से हुई उसने उसकी मुलाकात ज्वालापुर निवासी विपिन उर्फ बंटी से कराई।बंटी उसे ज्वालापुर के एक कॉलेज के पीछे स्थित कालोनी में ले गया जहां पहले से ही मौजूद दो महिलाओं ने उसे अनजान व्यक्ति के साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर किया और ऐसा न करने पर पीड़िता को जान से मारने की धमकी भी दी गई।

पीड़िता की शिकायत का संज्ञान लेते हुए पुलिस टीम ने उस घर पर छापा मारा और मुख्य आरोपी शीला रानी को उसके बेटे सन्नी और बेटी साधना के साथ गिरफ्तार कर लिया. उनके घर से एक नाबालिग लड़की को भी रेस्क्यू किया गया है, जिसे देह व्यापार के लिए लाया गया था. घर से पुलिस ने आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद की है. वहीं शीला रानी का दामाद बंटी मौके से फरार हो गया. उसकी तलाश में दबिश दी जा रही है.

शालिनी मूल रूप से उत्तर प्रदेश के मथुरा के रहने वाली है पहले वह देहरादून में हरिपुर कला में रहती थी।साल 2013 में पति से झगड़ा होने के बाद वह सेक्स रैकेट चलाने लगी। साल 2015 में वह हरिद्वार जाकर रहने लगी इसी मकान में शीला अपने बेटे सनी बेटी साधना और दामाद बंटी के साथ मिलकर देह व्यापार का धंधा करने लगी . इनके द्वारा हरिद्वार, दिल्ली आदि शहरों से गरीब लड़कियों को काम दिलाने के नाम पर अपने मकान पर लाया जाता था और ग्राहकों का इंतजाम कर उनसे देह व्यापार करवाया जाता था.

हरिद्वार के एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि मुख्य आरोपी शीला रानी और उसकी बेटी साधना लड़कियों की निगरानी और उनके रहने-खाने की व्यवस्था करती थीं. वहीं शीला का बेटा और दामाद ग्राहक लाने का काम करते थे. बताया जा रहा है कि साल 2018 में आरोपी हत्या के केस में रायपुर देहरादून के जेल में भी जा चुकी है वह वर्तमान समय में जमानत में बाहर चल रही थी।उन्होंने आगे कहा कि धर्मनगरी की पवित्रता बनाए रखना हम सबकी जिम्मेदारी है. सभी आरोपियों के खिलाफ अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत कठोर कार्रवाई की जाएगी.

कितनी है एक कप चाय की कीमत? एक दिन में इतना पैसा कमाता है Dolly चायवाला? अगर आपको सांप डस ले तो भूलकर भी ना करें ये 6 काम जैकलिन फर्नांडीज ने रेड रिविलिंग ड्रेस में उड़ाए लोगों के होश बिना मेकअप पति संग बच्चों के स्कूल पहुंची ईशा अंबानी, पहना था इतना सस्ता कुर्ता इंटरनेट से पहले बच्चे ऐसे करते थे मौज-मस्ती