शेखपुरा न्यूज़

Sheikhpura news: टाटी नरसंहार की बरसी पर टाटी नरसंहार के मृतकों को दी श्रद्धांजली

शेखपुरा। जिले के चर्चित टाटी नरसंहार की बरसी पर मंगलवार को जिले के ससबहना और शेखपुरा में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन के घटना में मारे गए 8 दिवंगत सामाजिक और राजनीतिक कार्यकर्ताओं को सामूहिक श्राद्धांजली दी गई। इसको लेकर शेखपुरा और ससबहना में दो अलग-अलग कार्यक्रम हुआ।

Sheikhpura news: टाटी नरसंहार की बरसी पर टाटी नरसंहार के मृतकों को दी श्रद्धांजली
स्व काशीनाथ यादव की प्रतिमा पर फूल माला चढ़ाते शंभू यादव

ससबहना के कालेज मैदान में आयोजित श्रद्धांजलि कार्यक्रम में हाल में ही जेल से रिहा हुए अशोक महतो मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। शेखपुरा के बुधौली बाइपास में सामाजिक कार्यकर्ता शंभू यादव की अध्यक्षता में श्रद्धांजलि कार्यक्रम हुआ। शंभू यादव ने कहा आज ही के दिन 22 वर्ष पूर्व 26 दिसंबर 2001 को शेखपुरा के टाटी पुल पर दिन दहाड़े आठ राजनीतिक कार्यकर्ताओं को हत्या कर दी गई थी। इसमें दिवंगत हुए राजनीतिक कार्यकर्ताओं में राजद के जिलाध्यक्ष पहलवान काशीनाथ यादव,जिला परिषद सदस्य अनील महतो भी शामिल थे। शेखपुरा को राजनीतिक रूप से आजादी दिलाने के लिए इन लोगों ने अपना बलिदान दिया था। कार्यक्रम में राजद के वरिष्ठ नेता तथा चेवाड़ा नगर पंचायत के मुख्य पार्षद पहलवान लट्टू यादव,शंबील हैदर,जिला पार्षद ललन महतो,शहबाज खान,आनंदी यादव,बहाबउद्दीन,संजय यादव,रंजीत यादव सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए।

ससबहना में हुए कार्यक्रम में अशोक महतो ने टाटी नरसंहार के दिवंगतों को श्र्द्धा सुमन अर्पित करते हुए कहा अनील महतो तथा काशीनाथ यादव सहित बाकी लोगों ने शेखपुरा में अन्याय और शोषण के खिलाफ राजनीतिक व सामाजिक लड़ाई में अपना बलिदान दिया। वंचित,शोषित को मुख्य धारा में लाने के लिए इन लोगों ने संघर्ष शुरू किया था। कार्यक्रम की अध्यक्षता मथुरा यादव ने तथा संचालन देवेंद्र कुशवाहा ने किया। कार्यक्रम में राजद के प्रांतीय नेता डॉ अर्जुन प्रसाद,डॉ राकेश रंजन के साथ सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।

कितनी है एक कप चाय की कीमत? एक दिन में इतना पैसा कमाता है Dolly चायवाला? अगर आपको सांप डस ले तो भूलकर भी ना करें ये 6 काम जैकलिन फर्नांडीज ने रेड रिविलिंग ड्रेस में उड़ाए लोगों के होश बिना मेकअप पति संग बच्चों के स्कूल पहुंची ईशा अंबानी, पहना था इतना सस्ता कुर्ता इंटरनेट से पहले बच्चे ऐसे करते थे मौज-मस्ती