ताज़ा खबरें

Baryl Vanneihsangi: टीवी एंकर जो बनी मिजोरम की सबसे कम उम्र की विधायक, टिकट मिलने पर लोगों ने उड़ाया था मजाक, चुनाव जीत रचा इतिहास

4 दिसंबर को मिजोरम विधानसभा चुनाव के नतीजे की घोषणा हुई। 40 सदस्यीय मिजोरम विधानसभा में 27 सीटें जीतकर जोरम पीपुल्स मूवमेंट ने अपनी सरकार बनाई।
इस जीत के साथ ही बेरिल वन्नेहसागी मिजोरम विधानसभा के लिए निर्वाचित होने वाली सबसे कम उम्र की महिला विधायक बन गई है। आइजोल दक्षिण-III निर्वाचन क्षेत्र से ZPM की 32 साल की विधायक ने 1,414 वोटो से चुनाव जीता है।

वन्नेहसागी ने शिलांग में नॉर्थ ईस्टर्न हिल यूनिवर्सिटी से आर्ट्स में ग्रेजुएशन की पढ़ाई की है। उन्होंने पहले एक रेडियो जॉकी में काम किया और फिर टीवी एंकर बंन गई। वह इंस्टाग्राम पर काफी फेमस पर्सनालिटी है और उनके 252k से अधिक फॉलोअर्स हैं। चुनाव आयोग के हलफनामे के अनुसार बैरिंल पहले आइजोल नगर निगम का चुनाव लड़ी थी और पार्षद बनी थी।

बेरिल वन्नेइहसागी मैं अपने करियर की शुरुआत रेडियो जॉकी से की थी। उसके बाद वह टीवी और मॉडलिंग लाइन में गई।

बेरिंग वन्नेइहसंगी एक नेता होने के साथ-साथ टीवी प्रेजेंटर, होस्ट- एंकर और रेडियो जॉकी है।

नवनिर्वाचित जेडपीएम विधायक, बैरिल वन्नेइहसंगी हमेशा से लैंगिक समानता और इस मुद्दे के प्रति अपने समर्थन के बारे में मुखर रही है।

मंगलवार को ANI से बातचीत के दौरान उन्होंने शासन प्रणाली में अधिक महिलाओं की भागीदारी को लेकर अपना तर्क दिया। उन्होंने कहा कि किसी महिला के लिए अपनी पसंद का कुछ भी करने में लिंग कोई बाधा नहीं होनी चाहिए। वन्नेहसंगी ने कहा मैं सभी महिलाओं को कहना चाहती हूं कि हमारा लिंग हमें वह सब कुछ करने से नहीं रोकता है जो हमें पसंद है। और जिसे हम आगे बढ़ना चाहते हैं। यह हमें किसी चीज को अपनाने से नहीं रोकता है। मेरा हर महिलाओं को संदेश है कि चाहे वह किसी भी समुदाय या सामाजिक तबके से हो, अगर वह कुछ करना चाहती हो तो उन्हें करना चाहिए।

बेरील एक अविवाहित हैं और उनके लिए राजनीति में आना और कठिन था। उन्हें बहुत ही सुनना पड़ा। सोशल मीडिया पर लोगों ने खूब उल्टा-सीधा कहा।

इस बार मिजोरम विधानसभा चुनाव में केवल तीन महिला उम्मीदवारों ने जीत हासिल की। जिसके नतीजे सोमवार को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित किया गया। इस चुनाव में 174 उम्मीदवारों में से केवल 16 महिलाएं थी। उनमें से दो ने दो-दो निर्वाचन क्षेत्रो में चुनाव लड़ा।

बेरील ने कहा कि उन्हें अक्सर लोगों को एक राजनेता के रूप में उन्हें गंभीरता से लेने के लिए राजी करना पड़ता है। लेकिन अब विधानसभा जीत कर उन्होंने लोगों के मुंह बंद कर दिए हैं।

बेरिल वन्नेइहसांगी ने अपनी जीत मिजोरम की महिलाओं को समर्पित की। उन्होंने कहा कि वह निर्वाचन क्षेत्र के लिए प्राथमिकता से काम करेगी।

पिज्जा बर्गर की तरह खाता है जानवरों का कच्चा मांस 10 साल किया बैडमिंटन खिलाड़ी को डेट, दुल्हन बनने को तैयार तापसी? एक्ट्रेस ने बताया सच प्रेग्नेंट है एक्ट्रेस, चलानी सीखी मशीन गन… ली मिलिट्री ट्रेनिंग, वीडियो देख फैंस के छूटे पसीने 200 जिम के मालिक, दिया 30 करोड़ टैक्स, अभी भी कुछ ऐसा है धोनी का जलवा क 25 की अनन्या ने खरीदा पहला घर, अंदर से है आलीशान, गौरी खान ने किया डिजाइन