शेखपुरा न्यूज़

Health Department: स्वास्थ्य विभाग ने जिले में नई पहल नाम से कार्यक्रम के तहत नव दंपत्ति संपर्क अभियान शुरू, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण के बारे में आवश्यक जानकारी दी जाएगी

शेखपुरा। स्वास्थ्य विभाग ने जिले में नई पहल नाम से एक कार्यक्रम शुरू किया है। इस कार्यक्रम के तहत इस वर्ष नई शादी-शुदा जोड़े से मिलकर उन्हें बढ़िया दांपत्य जीवन के बारे में शुभकामना देने के साथ स्वास्थ्य और परिवार कल्याण के बारे में आवश्यक जानकारी भी दी जाएगी।

Health Department: स्वास्थ्य विभाग ने जिले में नई पहल नाम से कार्यक्रम के तहत नव दंपत्ति संपर्क अभियान शुरू, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण के बारे में आवश्यक जानकारी दी जाएगी
नई पहल कार्यक्रम के तहत नव दंपत्ति संपर्क अभियान शुरू

इस बाबत एसीएमओ डॉ अशोक कुमार सिंह ने बताया यह कार्यक्रम मुख्य रूप से नव दंपत्ति को परिवार कल्याण से संबंधित आवश्यक और व्यावाहरिक जानकारी देना है। इस कार्यक्रम के लिए आशा को प्रशिक्षण देकर उनके माध्यम से इसे क्रियान्वित किया जाएगा। इसके लिए जिला में सर्वे करके 1056 नव दंपत्ति को चिंहित किया गया है,जिनसे मिलकर आशा उन्हें आवश्यक जानकारी देंगी। इस कार्यक्रम के तहत नव दंपत्ति को नई पहल नाम से एक निःशुल्क किट भी प्रदान किया जाएगा।

इस किट में परिवार कल्याण पुस्तिका भी रहेगी। इसके अलावे ससुराल आई नई बहू को किट में चूड़ी,कंघी,साबुन,रुमाल,तौलिया भी दिया जाएगा। आशा नई-नवेली बहू से वार्तालाप करके उन्हें परिवार कल्याण के संबंध में शादी के दो वर्ष बाद पहला बच्चा और पहला बच्चा जानने के बाद तीन वर्ष के उपरांत दूसरे बच्चे के बारे में सलाह दी जाएगी।

नई बहू को बच्चे दो ही अच्छे के नारा के बारे में भी बताया जाएगा। यह कार्यक्रम प्रजनन दर को मानक सीमा के भीतर रखने के लिए शुरू किया गया है।जिला का प्रजनन दर औसत से अधिक बताया गया है। जिला का प्रजनन दर 2.9 है,जबकि यह 2 रहना चाहिए। प्रजनन दर को राष्ट्रीय औसत तक रखने के लिए प्रत्येक वर्ष परिवार कल्याण पखवाड़ा का आयोजन किया जाता है।

Advertisement
कितनी है एक कप चाय की कीमत? एक दिन में इतना पैसा कमाता है Dolly चायवाला? अगर आपको सांप डस ले तो भूलकर भी ना करें ये 6 काम जैकलिन फर्नांडीज ने रेड रिविलिंग ड्रेस में उड़ाए लोगों के होश बिना मेकअप पति संग बच्चों के स्कूल पहुंची ईशा अंबानी, पहना था इतना सस्ता कुर्ता इंटरनेट से पहले बच्चे ऐसे करते थे मौज-मस्ती