पंचायत चुनाव

पंचायत चुनाव : उत्तर प्रदेश के कन्नौज में दबंगों के डर के कारण ग्रामीण कर रहे पलायन, 21 घरों में लगे मकान बिकाऊ है के पोस्टर

Panchayat Chunav

उत्तर प्रदेश के कन्नौज से एक ऐसा मामला सामने आया है जो आपको हैरान कर के रख देगा. यहां दबंगों के खौफ से लोग अपने घर को बेचने के लिए पोस्टर लगा दिए हैं.

आपको बता दें कि कोतवाली छिबरामऊ के गांव सरायगूजरमल के एक बुजुर्ग नरेशचंद्र कश्यप अपने आवास में गड़बड़ी की शिकायत कराई थी. उनके शिकायत कराने के बाद वहां के ग्राम विकास अधिकारी अनुराधा यादव द्वारा इसकी जांच भी की गई थी. अनुराधा ने नरेंद्र को फोन करके मौके पर बुलाया था। नरेंद्र ने बताया कि, गांव के प्रधान अंकित कोरी अपने भाई दीपक और रविंद्र के साथ मिलकर उन पर हथियार से वार किया.उन्होंने इस मामले में मुकदमा दर्ज कराया था। कार्रवाई न होने से प्रधान मुकदमा वापस लेने के लिए धमकी दे रहे।इससे पहले भी छेडख़ानी और घर में घुसकर मारपीट का केस भी दर्ज कराया गया था।

रविवार के दिन इस मामले को लेकर 21 घरों के बाहर “घर बिकाऊ है” के पोस्टर लगाए गए थे। नरेश चंद, जगदीश, सुभाष, कल्लू, वीरेंद्र, श्यामू, श्री दयाल और सुभाष के साथ कई ग्रामीणों ने बताया कि प्रधान बराबर परेशान कर रहे हैं। वह अक्सर घर में घुसकर धमकाते भी हैं। वो लोग अक्सर महिलाओं से मारपीट भी करते हैं।यहां तक की वो लोग बुजुर्गों को भी नहीं छोड़ते हैं। अगर उनपर कारवाई न होंगी तो उनपर जान का खतरा है।

अब गाँव के लोग अपना गाँव छोड़कर जाना चाहते है. बता दे की प्रधान ने बताया कि वह दूसरी बार प्रधान बने हैं। लोग उसे परेशान करने के लिए ऐसी बयान उन्हें बदनाम करने के लिए दे रहे है.सीओ शिवकुमार थापा ने कहा की नरेश के साथ मारपीट के मामले के बारे में जांच की जा रही है. और जो घर बिकाऊ है के पोस्टर लगे हैं उसके बारे में भी जाँच हम कर रहे हैं. हम किसी को भी गांव छोड़कर पलायन नहीं करने देंगे.

छात्राएं नहीं जा रहीं स्कूल, करते पीछा: इस गांव की छात्राएं भी दहशत में है. गांव की लड़कियों ने स्कूल जाना छोड़ दिया है. यहां की लड़की अलग-अलग कॉलेज में पढ़ती है लेकिन अब वह कॉलेज जाने से डरती है उनका कहना है कि गांव का प्रधान उनका पीछा करता है और उन्हें परेशान करता है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top